इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना राजस्थान 2023, ऑनलाइन अप्लाई (Indira Gandhi Matritva Poshan Yojana Rajasthan)

5/5 - (6 votes)
WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना क्या है, (Indira Gandhi Matritva Poshan Yojana Rajasthan 2023) इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना कितने जिलों में लागू किया गया है, मातृत्व पोषण योजना कब लागू किया गया था, इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना में गर्भवती महिलाओं को कितने पैसे मिलते हैं, उद्देश्य क्या है ,पात्रता क्या है, आवेदन के दस्तावेज क्या है, पैसा कितने किस्तों में मिलेगा, Indira Gandhi matrik yojna amount, Matritva Poshan Yojana Rajasthan Online Apply.


राज्य सरकार की योजना के अंतर्गत राजस्थान के मुख्यमंत्री श्रीमान, अशोक गहलोत जी के द्वारा इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना 2023 (Indira Gandhi Matritva Poshan Yojana Rajasthan) को चालू किया गया है, इस योजना को हमारे देश के पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय श्रीमती इंदिरा गांधी जी के 103 वी जयंती पर इस योजना का शुभारंभ किया गया है, योजना के अनुसार राजस्थान की गर्भवती महिलाओं को चुना गया है। इसके अंतर्गत जो महिलाएं एक बच्चे को जन्म देने के पश्चात दूसरे बच्चे को जन्म देने के लिए गर्भवती हैं।

उन्हें राजस्थान सरकार द्वारा 5 किस्तों में गर्भवती से प्रसव तक के अंतराल में ₹6000 देने की घोषणा की गई है। जिसमें राजस्थान के 7700000 लाख गर्भवती महिलाओं को इस योजना के अंतर्गत सम्मिलित किया जाना है। जिसके लिए सरकार द्वारा 43 करोड़ का बजट तैयार किया गया है। इसे कैसे आवेदन करें,आवेदन के लिए पात्रता क्या है, दस्तावेज क्या लगेंगे, इन सभी सवालों का जवाब आपको यहां मिल जाएगा। तो आइए इसे विस्तार रूप से जानते हैं।

इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना राजस्थान 2023, ऑनलाइन अप्लाई (Indira Gandhi Matritva Poshan Yojana Rajasthan)

इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना राजस्थान (Indira Gandhi Matritva Poshan Yojana Rajasthan Key)

1. योजना का नाम इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना
2. साल 19 नवंबर 2020
3. लाभार्थीगर्भवती महिलाए
4. किसके द्वारा चलाया गयाराजस्थान मुख्यमंत्री अशोक गहलोत द्वारा
5.आर्थिक सहायता राशि₹6000
6.उद्देश्यगर्भवती महिला को सही पोषण मिल सके
7.संबंधित विभागमहिला एवं बाल विकास विभाग
8.हेल्पलाइन नंबर0141-2716402
सूचना:- इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना 2023 के लिए महत्वपूर्ण सूची

Table of Contents

इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना क्या है :- (Indira Gandhi Matritva Poshan Yojana Rajasthan)

राजस्थान के मुख्यमंत्री, श्री अशोक गहलोत जी ने भारत के पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय श्रीमती इंदिरा गांधी जी की 103 वी जयंती पर (Indira Gandhi Matritva Poshan Yojana Rajasthan) का शुभारंभ किया है। जिसके अंतर्गत राजस्थान की गर्भवती महिलाओं को सम्मिलित किया गया है।

इसमें राजस्थान के 7700000 गर्भवती महिलाओं को लाभान्वित करने की योजना बनाई गई है। जिसमें सरकार द्वारा गर्भवती महिलाओं को 5 किस्तों में ₹6000 की सहयोग राशि प्रदान की जाएगी। और इस योजना की शुरुआत राजस्थान के 4 जिलों उदयपुर, डूंगरपुर, बांसवाड़ा और प्रतापगढ़ जैसे जिलो में शुरू कर दी गई है,बाकी जिलों में धीरे धीरे शुरू की जाएगी।

इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना का उद्देश्य क्या है ?

राजस्थान सरकार द्वारा, चलाई गई इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना के अंतर्गत बीपीएल कार्ड धारी एवं राजस्थान की गर्भवती महिलाओं को,जो कि गरीब परिवार से हैं। उनके द्वारा एक बच्चे को जन्म देने के पश्चात दूसरे बच्चे को जन्म देने के लिए गर्भवती महिलाओं को राजस्थान सरकार रु6000 की सहयोग राशि प्रदान कर रही है।

जिससे सही समय पर उचित पौष्टिक आहार जच्चा बच्चा दोनों को मिल सके, और राज्य में कुपोषण का शिकार हो रहे बच्चों की इस दर को घटाने के लिए इस योजना को चलाया जा रहा है। साथ ही दो बच्चे ही अच्छे इस धारणा को ध्यान में रखते हुए परिवार नियोजन की नीति को अपनाना और जनसंख्या नियंत्रण रखना इस योजना का मुख्य उद्देश्य है।

इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना की 5 किस्ते निम्न प्रकार है:-

किस्तेसहायता राशिराशि प्रदान करने की अवस्था
प्रथम₹1000गर्भावस्था की जांच और पंजीकरण होने के पश्चात
द्वितीय₹1000प्रसव से पूर्व दो जांच होने पर
तृतीय₹1000संस्थागत प्रसव होने के पश्चात
चतुर्थ₹2000बच्चे जन्म के 105 दिन तक सभी टीको को नियमित रूप से लगवाने तथा बच्चे का जन्म पंजीयन होने के पश्चात
पांचवा₹1000 बच्चे के जन्म होने से 3 महीने के भीतर परिवार नियोजन की नीति को अपनाने पर
सहयोग राशि की पांच किस्ते इस प्रकार है

योजना का क्षेत्र

इस योजना के अंतर्गत राज्य के 4 जनजातीय जिलो को क्रियान्वित किया जाएगा –

  1. उदयपुर
  2. डूंगरपुर
  3. बांसवाड़ा
  4. प्रतापगढ़

इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना की विशेषताएं :-

  • इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना के अंतर्गत राजस्थान सरकार ने 77000 गर्भवती महिलाओं को सम्मिलित किया है।जिसमें सरकार द्वारा 43 करोड़ का बजट पास किया गया हैं।
  • इस योजना के तहत फिलहाल राजस्थान के 4 जिले उदयपुर ,डूंगरपुर, बांसवाड़ा और प्रतापगढ़ इन जिलों में सरकार द्वारा योजना को चालू किया गया और धीरे-धीरे राजस्थान के बाकी जिलों में चालू किया जाएगा।
  • इस योजना के अंतर्गत गर्भवती महिलाओं को सरकार द्वारा दी जाने वाली 5 किस्तों में अलग-अलग कुल ₹6000 की सहयोग राशि आवेदक के बैंक अकाउंट में डायरेक्ट डाली जाएगी।
  • इस योजना में आवेदन की प्रक्रिया को ऑनलाइन रखा गया है। जिससे कि गर्भवती महिलाओं को समय और पैसे से कोई परेशानी ना हो।
  • इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना के कारण राजस्थान के लोग परिवार नियोजन की नीति को अपनाने के लिए अग्रसर होंगे ।जिस कारण राज्य में जनसंख्या नियंत्रण की संभावना काफी बढ़ जाएगी।।
  • राज्य सरकार मे यह योजना स्टेट मिनरल फाउंडेशन माइन्स एंड जियोलॉजी डिपार्टमेंट के तहत काम करेगी।
  • इस योजना में सरकार द्वारा दी जाने वाली आर्थिक सहायता, मां और बच्चे दोनों को पौष्टिक आहार प्राप्त करने में सहयोगी होंगे। जिससे कि राज्य में कुपोषण का शिकार हो रहे बच्चों को बचाया जा सकेगा।
  • इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना के तहत महिला सशक्तिकरण पर बल दिया जा रहा है।
  • इस योजना से लाभान्वित होने वाली वह महिलाएं होंगी जो दुसरी बार गर्भधारण करने वाली होंगी।

इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना की पात्रता :-

  • इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना के अंतर्गत वे निवासी जो राजस्थान के गर्भवती महिलाएं हैं वही इस योजना के पात्र होंगे।
  • राजस्थान की वह महिलाएं आवेदन कर सकेंगी जो गरीबी रेखा के अंदर आती है, अथवा बीपीएल राशन कार्ड धारी होंगी।
  • इस योजना के अनुसार एक बच्चे को जन्म देने के पश्चात दूसरे बच्चे को जन्म देने के लिए गर्भवती महिलाओं को ही पात्रता है
  • इंदिरा गांधी मातृत्व कौशल योजना में आवेदन करने के लिए गर्भवती महिला की आयु सीमा 19 वर्ष से अधिक होनी चाहिए
  • प्रथम चरण में केवल उन महिलाओं को शामिल किया जाएगा जो 1 नवंबर 2020 या इसके बाद दूसरी संतान के लिए गर्भवती हुई हो।
  • द्वितीय चरण के अंतर्गत उन महिलाओं को शामिल किया जाएगा जो 1 अप्रैल 2022 या इसके बाद दूसरी संतान के लिए गर्भवती हुई हो.

इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना मे आवेदन के लिए आवश्यक दस्तावेज :-

  • (1) आधार कार्ड की फोटो कॉपी
  • (2) गरीबी रेखा बीपीएल कार्ड की फोटो कॉपी
  • (3) बैंक पासबुक की फोटो कॉपी
  • (4) पासपोर्ट साइज फोटो की चार प्रति
  • (5) निवास प्रमाण पत्र की फोटो कॉपी
  • (6) आय प्रमाण पत्र की फोटो कॉपी
  • (7) ममता कार्ड
  • (8) मोबाइल नंबर

इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना का आवेदन (Matritva Poshan Yojana Rajasthan Online Apply)

राजस्थान सरकार द्वारा चलाई गई इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजन 2023 मे अगर आप आवेदन करना चाहते हैं, तो आपको अभी इंतजार करना पड़ेगा। क्योंकि राजस्थान सरकार द्वारा अभी इस योजना की घोषणा की गई है, इसके आवेदन की प्रक्रिया को सक्रिय नहीं किया गया है।

अर्थात इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना 2023 की राजस्थान सरकार द्वारा आवेदन प्रक्रिया की सक्रियता कि, जैसे ही जानकारी मिलेगी, हम आपको इस ब्लॉक के द्वारा उपलब्ध करा देंगे। इसके लिए आप हमारे इस लेख से जुड़े रहे।

योजना का लाभ कैसे मिलेगा

  • इस योजना के अंतर्गत पंजीकरण की प्रक्रिया को महिलाओं की सुविधा को देखते हुए बहुत ही सरल एवं कागज रहित बनाया गया है।
  • जो भी महिलाएं इस योजना के लाभ के पात्र होंगी उन्हें किस्त की राशि प्राप्त करने के लिए किसी भी प्रकार के फार्म जमा करने की कोई आवश्यकता नहीं है।
  • जिन भी महिलाओं को इस योजना के अंतर्गत किस्त की राशि प्रदान की जाएगी उन्हें अपने आधार कार्ड की फोटो कॉपी, ममता कार्ड की फोटो कॉपी एवं पासबुक की फोटो कॉपी जमा करना अनिवार्य है।

इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना 2023 का हेल्पलाइन नंबर :-

राजस्थान सरकार द्वारा चलाई जा रही इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना 2023, के अंतर्गत अगर आपको कोई जानकारी प्राप्त करना हो। या कोई समस्या हो तो इस योजना से संबंधित हेल्पलाइन नंबर – 0141-2716402 हैं।

होम पेजयहाँ उपलब्ध है
आधिकारिक वेबसाइटयहाँ उपलब्ध है

FAQ :-

  1. प्रश्न :- राजस्थान इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना की आधिकारिक वेबसाइट क्या है?

    उत्तर- https://wcd.rajasthan.gov.in

  2. प्रश्न :- इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए न्यूनतम आयु क्या है?

    उत्तर – इस योजना का लाभ उठाने के लिए न्यूनतम आयु 19 वर्ष या उससे अधिक का होना अनिवार्य है और इस योजना का लाभ दो संतानों तक ही प्रदाय है

  3. प्रश्न :- इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना कब प्रारंभ की गई?

    उत्तर – 19 नवंबर 2020में

  4. प्रश्न :- इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना का लाभ किसे मिलेगा

    उत्तर – राजस्थान की गर्भवती महिलाओं को मिलेगा जो कि एक बच्चे को जन्म देने के पश्चात दूसरे बच्चे के लिए गर्भवती हो।


अन्य पढ़ें :-


WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

Leave a Comment