PM Kusum Yojana 2023 | प्रधानमंत्री कुसुम योजना, ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन, लाभ पात्रता

5/5 - (3 votes)
WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

प्रधानमंत्री कुसुम योजना 2023 क्या है, Pm Kusum Yojana की शुरुआत कब की गई, उद्देश्य, सोलर पंप, मध्यप्रदेश, उत्तरप्रदेश, महाराष्ट्र, राजस्थान, बिहार, प्रधानमंत्री कुसुम योजना ऑनलाइन आवेदन, (Pradhan Mantri Kusum Yojana (PMKY) In Hindi, Solar Plant, Official Website, Launch Date, Pm Kusum Yojana Online Apply,PM Kusum Yojana Registration Online, Customer Care Helpline Number)

नमस्कार दोस्तों, देश के सभी किसान भाइयों के लिए शुरू की गई हैं, इस Pm Kusum Yojana योजना के अंतर्गत केंद्र सरकार का मानना है, कि देश में कई ऐसे इलाके हैं जहां पर्याप्त मात्रा में वर्षा नहीं होती है,

जिस कारण से किसान भाइयों को सुखा से संबंधित काफी मुसीबतों का सामना करना पड़ता है क्योंकि बरसात ना होने से फसल की सिंचाई करने में काफी समय लगता है, एवं पर्याप्त मात्रा में पानी ना मिलने से फसलों पर बुरा प्रभाव पड़ता है,

इससे उत्पादन में कमी आती है इसलिए अच्छे से अच्छे सिंचाई की सुविधा तैयार करने में सभी किसान भाई सक्षम नहीं होते है, इस योजना के तहत जिस प्रकार किसान खेतों में सिंचाई के लिए ट्यूबवेल का इस्तेमाल करते हैं एवं डीजल और पेट्रोल की आवश्यकता पड़ती है

ट्यूबवेल चलाने के उसी जगह पर प्रधानमंत्री कुसुम योजना के तहत सोलर प्लांट लगवा कर कम खर्चे में पर्याप्त सिंचाई की व्यवस्था करने के उद्देश्य से सरकार कार्यरत है।

आईए “Pradhanmantri Kusum Yojana 2023” आर्टिकल के माध्यम से हम जानेंगे की किसान भाइयों को इस योजना का लाभ कैसे मिलेगा, क्या आवश्यक दस्तावेज लगेंगे, क्या पात्रता होनी चाहिए, और भी राज्यों में आवेदन करने की प्रक्रिया क्या है, सभी जानकारी आगे उपलब्ध कराई गई है ध्यान पूर्वक पढ़ें

Pradhanmantri Kusum Yojana in Hindi
प्रधानमंत्री कुसुम योजना ऑनलाइन पंजीकरण

Table of Contents

प्रधानमंत्री कुसुम योजना 2023 :(Pradhanmantri Kusum Yojana (PMKY)in Hindi)( हाईलाइट सूची )

1. योजना का नाम“प्रधानमंत्री कुसुम योजना”
2. Launch Date(शुरूआत)8 मार्च 2019
3. सरकार द्वाराकेंद्र सरकार की योजना
4. उद्देश्यउचित मूल्य पर सौर सिंचाई पंप उपलब्ध कराना
5. किसे मिलेगा लाभ देश के किसानों को
6.आवेदन प्रक्रियाऑनलाइन
7.हेल्पलाइन नंबर1800 180 3333

पीएम कुसुम योजना का उद्देश्य (Pm Kusum Yojana Objective)

दोस्तों हम इस बात से भली-भांति परिचित है कि भारत में कई ऐसे राज्य हैं। जहां पर सूखा पड़ता है सूखा पड़ने की वजह से सही तरीके से खेती नहीं हो पाती उचित मात्रा में फसलों को पानी नहीं मिल पाता हैं, जिस कारण से उपज में प्रभाव पड़ता है, किसानों को अधिक उत्पादन नहीं मिल पाता है,

इन्हीं मुख्य बातों पर प्रकाश डालते हुए केंद्र सरकार ने पीएम कुसुम योजना 2023 की शुरुआत की है Pradhanmantri Kusum Yojana योजना का मुख्य उद्देश्य है कि किसानों को मुफ्त बिजली उपलब्ध कराई जाए

इसी योजना के तहत सिंचाई के लिए सोलर पैनल की सुविधा प्रदान करना जैसे अपने खेतों की अच्छी से सिंचाई कर सके कुसुम योजना 2023 के जरिए किसानों को दोहरा फायदा प्राप्त होगा

इसके साथ ही यदि किसान अधिक बिजली बनाकर ग्रिड को भेजते हैं, तो उन्हें उसकी कीमत भी मिलेगी।

पीएम कुसुम योजना 2023 के तहत 17.5 लाख से भी ज्यादा डीजल पंप और 3 लाख खेती के लिए उपयोगी पंप को आगे के 10 सालों में सौर ऊर्जा में कन्वर्ट करने का लक्ष्य सरकार द्वारा निर्धारित किया गया है।

प्रधानमंत्री कुसुम योजना के लाभ (Benefits)

  • देश के अंदर सभी राज्यों के किसान भाई प्रधानमंत्री कुसुम योजना का लाभ उठा सकेंगे ।
  • आपकी जानकारी के लिए बता दें कि इस योजना के तहत किसानों को बहुत ही कम कीमत पर सौर सिंचाई पंप प्राप्त हो सकेगा
  • इस योजना के तहत लगभग 1000000 से भी ज्यादा सौर ऊर्जा से जुड़े हुए सोलर पंप का सोलराइजेशन होगा।
  • इस योजना के शुरुआती चरण में लगभग 1700000 से भी ज्यादा सिंचाई पंपों को सोलर पैनल से चलाया जाएगा जो पहले डीजल से चलते थे जिस कारण से उन इलाकों में डीजल की खपत काफी ज्यादा थी।
  • इस योजना के तहत अत्यधिक बिजली का भी प्रोडक्शन किया जा सकेगा।
  • इस योजना के अंतर्गत यदि कोई किसान भाई सोलर पैनल लगवाता है तो सरकार के द्वारा 60% आर्थिक सहायता दी जाएगी और लगभग 30% की आर्थिक सहायता बैंक की तरफ से प्राप्त होगी अतः इस प्रकार किसान भाइयों को मात्र 10% की लागत अपनी ओर से लगानी होगी जिसका बड़ा मुनाफा किसानों को प्राप्त होगा।
  • इस योजना से सबसे ज्यादा फायदा ऐसे राज्य के किसानों को मिलेगा जहां बारिश कम होती है और जहां सिंचाई के लिए पर्याप्त बिजली उपलब्ध नहीं होता है।
  • इस योजना के अंतर्गत सोलर प्लांट की स्थापना हो जाने से किसानों को 24 घंटे बिजली उपलब्ध हो पाएगी। जिसकी वजह से किसान भाई जब चाहे तब अपने खेत में सिंचाई कर सकेंगे।
  • सोलर पैनल के द्वारा अत्यधिक बिजली का उत्पादन होगा तो किसान इस बिजली को अपनी इच्छा अनुसार गवर्नमेंट या प्राइवेट बिजली डिपार्टमेंट को बेच सकेंगे।
  • प्रधानमंत्री कुसुम योजना के अंतर्गत सोलर पैनल स्थापित किए जाएंगे, वह बंजर जमीन पर स्थापित किए जाएंगे जिससे कि बंजर जमीन का भी इस्तेमाल हो सके और किसान भाइयों को अपनी बंजर जमीन से फायदा मिल सके।

प्रधानमंत्री कुसुम योजना की विशेषताएं (Pm Kusum Yojana Features)

  • धरोहर राशि :- इस योजना के अंतर्गत किसी व्यक्ति के द्वारा अगर पैसे लगाकर सोलर एनर्जी यूनिट की स्थापना की जाती है तो ऐसी अवस्था में व्यक्ति के द्वारा धरोहर राशि 100000 प्रति मेगावाट की दर से जमा किया जाएगा इसे डिमांड ड्राफ्ट और बैंक गारंटी के तौर पर देना होगा जिसकी समय अवधि कम से कम 6 महीने होगी।
  • निष्पादन सिक्योरिटी अमाउंट :- सफल आवेदन कर्ता केबीपीएस साइन करने के 15 दिनों के बाद इस पैसे को वापस लौटा दिया जाएगा। इसके अलावा सोलर एनर्जी यूनिट की स्थापना करने के लिए एसपीजी को 5,00000 प्रति मेगावाट की दर से प्रोजेक्ट निष्पादन सिक्योरिटी अमाउंट जमा करना होगा, इस पैसे की समय अवधि 15 दिनों की होगी और जब प्रोजेक्ट चालू होगा तो 1 महीने के बाद इस पैसे को लौटा देना होगा।
  • किसानों को मुनाफा :- इस योजना के तहत किसानों को बहुत बड़ा मुनाफा मिल रहा है, जो सोलर पंप किसानों को प्राप्त है इसे सिंचाई के लिए जब चाहे तब इस्तेमाल कर सकते हैं एवं बिजली ना होने पर भी सिंचाई में कोई रुकावट उत्पन्न नहीं होगी समय- समय पर सिंचाई करके अपनी निर्धारित फसल उत्पादन सीमा तक पहुंच सकेंगे आदि बहुत से फायदे।
  • खेत में पंपसेट की स्थापना :- इस योजना के तहत 3 हॉर्स पावर से लेकर 7.5 हॉर्स पावर के पंपसेट को स्थापित किया जाना है, 3 हॉर्स पावर के लिए ₹20549 और 5 हॉर्स पावर के लिए 33749 रुपए और 7.5 हॉर्स पावर के लिए ₹46687 का अमाउंट डिमांड निर्धारित किया गया है, इस निर्धारित राशि को किसान के द्वारा जमा करवाना होगा, इसके बाद ही किसानों को अपने खेत में पंपसेट लगवा सकेंगे।
  • सोलर इलेक्ट्रिकल पावर प्लांट यूनिट स्थापित करने की समय अवधि :- प्रधानमंत्री कुसुम योजना में आवेदन करने के पश्चात संबंधित डिपार्टमेंट के द्वारा एसपीजी को सोलर एनर्जी यूनिट स्थापित करने के लिए लेटर ऑफ ऑथराइजेशन जारी किया जाता है। इस ऑथराइजेशन के तहत आवेदक को 9 महीने के भीतर सोलर एनर्जी यूनिट की स्थापना करनी होती है। अगर तय किए गए समय अनुसार स्थापना नहीं की जाती है। तो पेनाल्टी भरना पड़ेगा अगर एसपीजी के द्वारा जो दस्तावेज जमा किए गए हैं, वह गलत साबित होते हैं तो ऐसी स्थिति में किसी भी समय आवेदन को Invalid (अमान्य) कर दिया जाएगा ।

धोखाधड़ी करने वाली वेबसाइटों से सावधान सतर्क रहें (False Alert)

Note :- साथियों महत्वपूर्ण सूचना आपकी जानकारी के लिए बता दें कि मंत्रालय के संज्ञान में आया है कि कई फर्जी वेबसाइट और मोबाइल एप्लीकेशन आवेदकों से प्रधान मंत्री किसान ऊर्जा सुरक्षा एवं उत्थान महाभियान “प्रधानमंत्री कुसुम योजना” के नाम पर

किसानों से सोलर पंप लगाने हेतु ऑनलाइन आवेदन पत्र भरने के साथ पंजीकरण शुल्क तथा पंप की कीमत का ऑनलाइन भुगतान करने को कह रहे हैं।

इनमें से कुछ फर्जी वेबसाइट डोमेन नाम में पंजीकृत है जिनका नाम उजागर हुआ है इस प्रकार से बहुत सी वेबसाइट है जिनसे आपको सतर्क रहने की जरूरत है।

इसलिए “प्रधानमंत्री कुसुम योजना” के लिए आवेदन करने वाले सभी किसानों को सलाह दी जाती है कि वे धोखाधड़ी करने वाली वेबसाइट पर ना जाए तथा कोई भी भुगतान ना करें,

प्रधानमंत्री कुसुम योजना को राज्य सरकार के विभागों द्वारा कार्यान्वित किया जा रहा है, इस योजना से संबंधित अधिक से अधिक जानकारी के लिए नवीन और नवीकरणीय ऊर्जा मंत्रालय (MNRE) की आधकारिक वेबसाइट https//pm kusum.mnre.gov.in, या www.mnre.gov.in पर विजिट करें, और टोल फ्री नंबर :-1800-180-3333 पर डायल करें !

प्रधानमंत्री कुसुम योजना के घटक(Pm Kusum Yojana Components)

साथियों प्रधानमंत्री कुसुम योजना के महत्वपूर्ण चार घटक है जिन्हें निम्नानुसार समझा जा सकता है।

  • सौर पंप वितरण :- केंद्र सरकार के द्वारा प्रधानमंत्री कुसुम योजना इस योजना के प्रथम चरण में डिपार्टमेंट के साथ मिलकर इलेक्ट्रिकल डिपार्टमेंट सोलर एनर्जी से चलने वाले प्रांतों का सफल वितरण करेंगे।
  • वर्तमान पंपों का आधुनिकरण :- फसल की सिंचाई के लिए जो पंप पहले से लगे हुए थे वनीकरण किया जाएगा जो पुराने हैं उन्हें चेंज करके बदलकर किया जाएगा।
  • सौर ऊर्जा कारखाने का निर्माण :- सोलर एनर्जी कारखाने का निर्माण किया जाएगा जिससे कि सिंचाई के लिए आवश्यक इलेक्ट्रिसिटी का प्रोडक्शन करने की अच्छी कैपेसिटी हो ट्यूबल को चलाने के लिए बिजली की उचित व्यवस्था की जाएगी।
  • ट्यूबवेल की स्थापना :- इस योजना के अंतर्गत ट्यूबवेल की स्थापना सरकार के द्वारा की जाएगी इस लिमिटेड मात्रा में इलेक्ट्रिसिटी उत्पन्न करेगी।

पीएम कुसुम योजना की पात्रता (Pm Kusum Yojana Eligibility)

  • पीएम कुसुम योजना में आवेदन की पात्रता हेतु आवेदक का भारतीय निवासी होना अनिवार्य है ।
  • इस योजना में पात्रता हेतु प्रति मेगावाट के हिसाब से किसान के पास तकरीबन 2 हेक्टेयर जमीन होना चाहिए।
  • इस योजना में पात्रता हेतु आवेदक के सभी दस्तावेज मौजूद होने चाहिए।
  • इस योजना का लाभ किसान, किसानों का समूह, सहकारी समितियां, पंचायत, किसान उत्पादक संगठन, जल उपभोक्ता एसोसिएशन आदि को पात्रता मिलेगी।

पीएम कुसुम योजना में आवेदन हेतु दस्तावेज (Pm Kusum Yojana Documents)

  • आधार कार्ड का फोटो कॉपी
  • राशन कार्ड का फोटो कॉपी
  • रजिस्ट्रेशन की कॉपी
  • ऑथराइजेशन लेटर
  • जमीन की जमाबंदी की कॉपी
  • चार्टर्ड अकाउंटेंट द्वारा जारी नेटवर्क सर्टिफिकेट (विकासकर्ता के माध्यम से प्रोजेक्ट विकसित करने की स्थिति में)
  • आपका मोबाइल नंबर
  • बैंक खाता विवरण
  • पासपोर्ट साइज फोटो !

प्रधानमंत्री कुसुम योजना की नई अपडेट(Pm Kusum Yojana New Update)

प्रधानमंत्री कौशल योजना के तहत अब तक कुछ नए संशोधन किए जा चुके हैं जो कि इस प्रकार है

किसानों को नया अलॉटमेंट

सरकार के द्वारा एक बार फिर से प्रधानमंत्री कुसुम योजना मे बड़ा बदलाव किया गया है, अब नई अपडेट के अनुसार इस योजना के अंतर्गत नया एलॉटमेंट दिया जाएगा।

जिसके बाद किसानों को अपना बिजली यूनिट स्थापित किया जा सकेगा। इसमें बदलाव की घोषणा भारत के ऊर्जा मंत्रालय के द्वारा की गई है, ऊर्जा मंत्रालय के अनुसार बंजर जमीन कृषि भूमि चारागाह और दलदली जमीन पर भी सोलर इलेक्ट्रिक यूनिट की स्थापना की जा सकेगी।

यूपी में 15,000 सौर पंप की स्थापना की गई

किसान भाइयों के पक्ष में इस साल 2022 में 26 मई के दिन यूपी गवर्नमेंट के द्वारा अपने दूसरे कार्यकाल का पहला बजट पेश किया गया था

जिस बजट के दौरान यह क्या कहा गया था कि प्रधानमंत्री किसान ऊर्जा सुरक्षा और उत्थान योजना के तहत किसानों को श्री सिंचाई प्रदान करने के लिए 15000 सौर पंप स्थापित किए जाएंगे

इस बजट के तहत किसान तकरीबन 34307 गवर्नमेंट नलकूप और 252 छोटे नाका नेहरु के द्वारा श्री सिंचाई कर सकेंगे

यूपी सरकार का ऐलान

साथियों उत्तर प्रदेश सरकार के द्वारा पीएम कुसुम योजना के अंतर्गत पहले आओ पहले पाओ के नाम से जागरूकता अभियान चला रही है, यूपी के कुछ जिलों में रहने वाले किसानों को सोलर पंप प्रदान किया जा रहा है,

इन जिलों में लखनऊ, सहारनपुर ,मेरठ, अयोध्या, अलीगढ़, और गोरखपुर, मंडल, आगरा, मुरादाबाद, बरेली देवीपाटन आजमगढ़ कानपुर झांसी प्रयागराज मिर्जापुर वाराणसी और चित्रकूट मंडलों के जिलों को शामिल किया गया है। अधिक किसानों को इस योजना का लाभ प्रदान करने के लिए सरकार प्रयासरत है।

प्रधानमंत्री कुसुम योजना में वित्तीय संसाधनों का अनुमान (Pm Kusum Yojana Financial Estimation)

किसान भाइयों के द्वारा प्रोजेक्ट स्थापना हेतु

1. सोलर एनर्जी यूनिट की क्षमता 1 मेगावाट
2.अंदाजित इंवेस्टमेंट 3.5 से 4.00 करोड रुपए प्रति मेगा वाट
3.अनुमानित सालाना बिजली उत्पादन17 लाख यूनिट
4.अनुमानित टैरिफ₹ 3.14 प्रति यूनिट
5. कुल अनुमानित सालाना इनकम₹ 53 लाख
6.अनुमानित सालाना खर्च₹ 5 लाख
7.अनुमानित सालाना फायदा ₹4800000 रुपए
8.25 वर्ष की अवधि में कुल अनुमानित इनकम12 करोड रुपए

किसानों के द्वारा जमीन भाड़े लेने पर

1. मेगा वाट हेतु जमीन की जरूरत2 हेक्टेयर
2.प्रति मेगावाट बिजली उत्पादन17 लाख युनिट
3.अनुमानित भाड़ा1.70 लाख से 3.40 लाख

पीएम कुसुम योजना पंजीकरण कैसे करें(Pm Kusum Yojana Online Registration)

पीएम कुसुम योजना में ऑनलाइन और ऑफलाइन आवेदन किया जा सकता है केंद्र सरकार द्वारा शुरुआत की ग गई कुसुम योजना के तहत सौर ऊर्जा यूनिट की स्थापना हेतु और भूमि भाड़े पर देने हेतु आवेदन कर सकते हैं।

Pm Kusum Yojana official website ka Home page image
Pm Kusum Yojana 2023 online registration

ऐसे लोग जिन्होंने अपनी जमीन को भाड़े पर देने के लिए पंजीकरण करवाया है उनकी लिस्ट आर आर आई सी की आधिकारिक वेबसाइट पर अपलोड की जाएगी यदि किसान भाइयों के द्वारा ऑनलाइन पंजीकरण करवाया गया है

तो एप्लीकेशन आईडी प्राप्त होगी ऑनलाइन आवेदन कराने की अवस्था में एप्लीकेशन फॉर्म प्रिंट निकाल कर व्यक्ति को अपने पास सुरक्षित रख लेना है अगर आवेदक के द्वारा ऑफलाइन आवेदन किया गया है तो व्यक्ति को एक रसीद हासिल होती है उसे भी संभाल कर रखना अति आवश्यक है।

प्रधानमंत्री कुसुम योजना आवेदन शुल्क (Pm Kusum Yojana Application Fee’s)

साथियों प्रधानमंत्री कुसुम योजना के अंतर्गत किसान भाइयों को को सोलर एनर्जी यूनिट की स्थापना करने के लिए ₹5000 प्रति मेगावाट और जीएसटी की दर से एप्लीकेशन फीस अदा करनी होगी अन्य मेगा वाट और आवेदन फीस निम्नानुसार है।

1. 0.5 मेगावाट ₹2500 + जीएसटी
2.1 मेगावाट₹ 5000 +जीएसटी
3.1.5 मेगावाट ₹7500 +जीएसटी
4.2 मेगा व्हाट₹ 10,000 + जीएसटी

राजस्थान कुसुम योजना ऑनलाइन आवेदन (Rajasthan Kusum Yojana Online Apply)

राज्य के जो भी इच्छुक लाभार्थी कुसुम योजना के तहत आवेदन करना चाहते हैं वह नीचे दिए गए आवेदन की प्रक्रिया को फॉलो कर आवेदन कर सकेंगे

  • राजस्थान राज्य में रहने वाले किसान भाई जो कुसुम योजना में ऑनलाइन आवेदन करना चाहते हैं, उन्हें सर्वप्रथम इस योजना की आधिकारिक वेबसाइट ओपन करना होगा।
  • होम पेज पर आपको पंजीकरण ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन का विकल्प दिखाई देगा इस विकल्प पर क्लिक करना है क्लिक करने के पश्चात आवेदन फॉर्म में पूछी गई सभी जानकारी जैसे नाम एड्रेस आधार कार्ड नंबर मोबाइल नंबर आदि भरना होगा
  • यहां तक की जानकारी भरने के बाद आखिर में सबमिट के बटन पर क्लिक करें सफलतापूर्वक पंजीकरण होने के बाद आपको चयनित लाभार्थियों को सौर पंप सेट की 10% लागत विभाग द्वारा अनुमोदित आपूर्तिकर्ताओं को जमा करने के लिए निर्देशित किया जाता है।
  • यह सारी प्रक्रिया पूर्ण होने के बाद इसके कुछ दिनों मे आप के खेतों में सोलर पंप लगा दिए जाएंगे।

उत्तर प्रदेश कुसुम योजना के अंतर्गत आवेदन करने की प्रक्रिया क्या है(UP Kusum Yojana Online Apply)

  • आपको उत्तर प्रदेश कुसुम योजना के अधिकारी वेबसाइट पर जाना होगा।
Pm kusum Yojana 2023 online Apply kaise kare
Pm kusum Yojana Online Apply
  • अब आपके सामने होम पेज खुलकर आ जाएगा।
  • होम पेज ओपन होने के बाद आपके सामने प्रोग्राम का विकल्प दिखाई देगा इस पर क्लिक करना है।
  • इसके बाद आपको सोलर एनर्जी प्रोग्राम का विकल्प दिखाई देगा इस विकल्प पर क्लिक करना है।
पीएम कुसुम योजना में ऑनलाइन अप्लाई करने के लिए यूपी ऑफिसियल वेबसाइट!
Pm kusum Yojana Online Apply Up
  • यहां तक की प्रक्रिया के पश्चात आपको कुसुम योजना के विकल्प पर क्लिक करना होगा ।
Pm Kusum Yojana UP mein online registration karne ke liye registration form
PM kusum Yojana Online Registration
  • अब आपके सामने एक नया पेज खोलकर आएगा जिसमें आपको पंजीकरण के विकल्प पर क्लिक करना होगा ।
  • पंजीकरण के विकल्प पर क्लिक करते ही सामने रजिस्ट्रेशन फॉर्म खुल जाएगा आपके द्वारा इस फॉर्म में पूछे गए सभी महत्वपूर्ण जानकारी को पढ़कर दर्ज करना होगा ।
  • इसके बाद आपको सभी महत्वपूर्ण दस्तावेजों को अपलोड करना होगा इसके बाद आपको रजिस्टर के विकल्प पर क्लिक करना होगा ।
  • अंततः इस प्रकार आप उत्तर प्रदेश कुसुम योजना के अंतर्गत आवेदन पंजीकरण कर सकेंगे।

महाराष्ट्र कुसुम योजना के अंतर्गत आवेदन करने की प्रक्रिया (Maharashtra Kusum Yojana Online Apply)

  • दोस्तों सबसे पहले आपको महाराष्ट्र कुसुम योजना की अधिकारी वेबसाइट पर जाना होगा ।
Pm Kusum Yojana 2023 Maharashtra official website ka home page image
Pm kusum Yojana Maharashtra online apply
  • अब आपके सामने होम पेज खुल जाएगा होमपेज पर ही आपको अप्लाई फॉर कुसुम योजना के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • इसके पश्चात आपके सामने आवेदन फॉर्म खुलकर आ जाएगा आवेदन फॉर्म में पूछी गई सभी महत्वपूर्ण जानकारियों को पढ़कर दर्ज करना होगा।
  • इसके पश्चात आपको सभी महत्वपूर्ण दस्तावेजों को अपलोड करना होगा।
  • अब यहां तक की सारी प्रक्रिया पूर्ण होने के पश्चात आपको सबमिट के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • अन्ततः आप इस प्रकार आप महाराष्ट्र कुसुम योजना के अंतर्गत आवेदन कर सकेंगे।

हरियाणा कुसुम योजना के अंतर्गत आवेदन करने की प्रक्रिया (Haryana Kusum Yojana Online Apply)

  • जी हां दोस्तों सर्वप्रथम आपको हरियाणा कुसुम योजना के आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
pm Kusum Yojana Haryana Official Site ka Home page
Pm Kusum Yojana Haryana online apply
  • दोस्तों अब आपके सामने होम पर खुलकर आ जाएगा होम पेज आपको कुसुम योजना के लिए आवेदन करने के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • इसके बाद आपके सामने आवेदन फॉर्म खोल जाएगा आपको इस फॉर्म में पूछी गई सभी जानकारियों को पढ़कर दर्ज करना होगा।
  • इसके पश्चात आपको सभी महत्वपूर्ण दस्तावेजों को अपलोड करना होगा।
  • सारी जानकारी दर्ज करने के पश्चात अंत में आप को सबमिट के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • दोस्तों इस प्रकार आप हरियाणा कुसुम योजना के अंतर्गत आवेदन कर सकेंगे।

मध्य प्रदेश कुसुम योजना ऑनलाइन आवेदन की प्रक्रिया(MP Kusum Yojana Online Apply)

  • दोस्तों आवेदन के लिए सबसे पहले आपको ऑफिशियल वेबसाइट पर जाना होगा।
Pm Kusum Yojana MP Official Site ka Home Page
KusumYojana Madhya Pradesh Online Apply
  • इसके बाद आपके सामने होम पर खुल जाएगा
  • अब आपको होम पेज पर ऑनलाइन आवेदन के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।
  • इसके बाद आपके सामने एक नया पेज खुल जाएगा इस पेज पर आपको पूछी गई सारी जानकारी दर्ज करनी होगी।
  • पूरी प्रक्रिया के पश्चात सबमिट के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।
  • इस प्रकार आप मध्यप्रदेश कुसुम योजना ऑनलाइन आवेदन कर सकेंगे।
[elementor-template id=”4188″]

प्रधानमंत्री कुसुम योजना आवेदन की सूची देखें (Pm Kusum Yojana Check List)

  • दोस्तों कुसुम योजना के अंतर्गत सौर ऊर्जा संयंत्र लगाने हेतु चयनित आवेदकों का नाम देखने के लिए सर्वप्रथम आपको सोलर योजना की ऑफिशियल वेबसाइट पर जाना होगा।
  • इसके बाद आपको कुसुम के लिए पंजीकृत आवेदनों की सूची वाले विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • अब जैसे ही आप इस विकल्प पर क्लिक करेंगे आपके सामने चयनित आवेदकों की सूची खुल जाएगी।
  • अब आप इस सूची के माध्यम से किसी भी प्रकार के नाम को आसानी से खोज सकेंगे।

ग्रीवेंस दर्ज करने की प्रक्रिय (Grievance Procedure)

  • इसके लिए आपको सर्वप्रथम Ministry Of New And Renewable Energy की ऑफिशियल वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने देखेंगे कि होम पेज खुल जाएगा।
  • होम पेज पर आपको पब्लिक ग्रीवेंस एंड कंप्लेंट रिड्रेसल मेकैनिज्म के विकल्प दिखाई देंगे पर क्लिक करना है।
  • इसके पश्चात आपके कंप्यूटर स्क्रीन पर एक नया पेज खुल जाएगा,इस पर आपको नाम, ईमेल आईडी, एड्रेस, लाइसेंस डिटेल्स, भरना होगा।
  • यहां तक की प्रक्रिया पूर्ण होने के पश्चात आपको सबमिट के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • अंततः इस प्रकार आप ग्रीवेंस दर्ज कर सकेंगे।

फीडबैक देने की प्रक्रिया जाने (Feedback Process)

  • आप सभी का फिर से स्वागत है दोस्तों मिनिस्ट्री ऑफ न्यू एंड रिन्यूएबल एनर्जी की आधिकारिक वेबसाइट पर सर्वप्रथम जाना होगा। ऑफिशियल साइट पर जाते हैं संपर्क खोल कर आ जाएगा इसके पश्चात आपको फीडबैक के विकल्प पर क्लिक करना होगा। दोस्तों अब आप देखेंगे कि आपकी कंप्यूटर स्क्रीन पर एक नया पेज खुल जाएगा इस खुले हुए पेट पर आपको अपना नाम ईमेल आईडी सब्जेक्ट तथा फीडबैक दर्ज करना होगा इसके बाद आपको अंत में सबमिट कर विकल्प पर क्लिक करना होगा अंततः इस प्रक्रिया के माध्यम से आप फीडबैक दे सकेंगे

प्रधानमंत्री कुसुम योजना का हेल्पलाइन नंबर (Helpline Number)

दोस्तों प्रधानमंत्री कुसुम योजना से संबंधित सभी जानकारी हमने आपको इस आर्टिकल के माध्यम से उपलब्ध कराई है जिसमें आवेदन कैसे करना है दस्तावेज क्या लगेंगे पात्रता क्या होनी चाहिए किसानों को क्या लाभ प्राप्त होगा कितना लाभ प्राप्त होगा साथ ही

इस योजना के नाम से होने वाले फर्जीवाड़ा के बारे में बताया है। इसके अलावा यदि आपके मन में कोई और भी ऐसे सवाल है जिसका समाधान ना मिल पा रहा हो तो सरकार ने आपकी सहायता के लिए ऑफिशियल वेबसाइट उपलब्ध कराया है

इस पर कॉल करके आप अपनी समस्या का समाधान पा सकते हैं हेल्पलाइन नंबर :- 011-243600707,011-24360404

टोल फ्री नंबर :- [18001803333] इस टोल फ्री हेल्पलाइन नंबर पर आप सोमवार से शनिवार सुबह 10:00 बजे से लेकर शाम को 5:00 बजे तक कॉल कर सकते हैं।

1. होम पेजक्लिक करें
2.ऑफिशियल वेबसाइटक्लिक करें
3.व्हाट्सएप ग्रुपज्वाइन करें
4.टेलीग्राम ग्रुपज्वाइन करें

इन्हें भी पढ़ें :-

FAQ :- इस योजना से संबंधित प्रश्नोत्तरी ?

Q . पीएम कुसुम योजना में कितना खर्चा आता है ?

Ans – दोस्तों इस योजना के अंतर्गत आवेदक को ऊर्जा संयंत्र की स्थापना के लिए आवेदन करना होगा जिसके लिए ₹5000 प्रति मेगावाट तथा जीएसटी की दर से आवेदन शुल्क को का भुगतान करना होगा

Q . कुसुम योजना के लिए कौन पात्र है ?

Ans – इस योजना का लाभ उठाने के लिए पात्रता यह है कि इस योजना में आवेदक व्यक्तिगत किसान होगा या किसान संगठन के साथ ही किसान के पास 2 हेक्टेयर भूमि होना आवश्यक है जहां वह ऊर्जा संयंत्र की स्थापना करवा सकेंगे यह कुछ मुख्य पात्रता होनी चाहिए।

Q . पीएम कुसुम योजना का हेल्पलाइन नंबर क्या है ?

Ans -कुसुम योजना का हेल्पलाइन नंबर :- 1800-180-3333 टोल फ्री नंबर पर कॉल करके आप जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

Q .कुसुम योजना कब चालू होगी ?

Ans – दोस्तों कुसुम योजना सोलर प्लांट स्कीम इस स्कीम की शुरुआत 2019 में की गई थी इसका उद्देश्य साल 2022 तक 30800 मेगावाट की अतिरिक्त 100 क्षमता प्राप्त करना था जिसे अब केंद्र सरकार ने पीएम कुसुम योजना की अवधि मार्च 2026 तक बढ़ा दी है जिसका कारण है कि अधिक से अधिक किसानों को इस योजना का लाभ मिल सके उनकी आय में बढ़ोतरी हो सके।

Q . प्रधानमंत्री की कुसुम योजना क्या है ?

Ans – पीएम कुसुम योजना के तहत सिंचाई के लिए उपयोग में आने वाली ट्यूबवेल को चलाने के लिए डीजल की आवश्यकता होती है। और डीजल महंगा होने की वजह से किसान उपयुक्त बिजली की मांग करते आ रहे हैं। जिसकी समाधान के लिए सरकार ने डीजल पंप की जगह पर सोलर पावर प्लांट लगवा कर पंप चलाने एवं सही ढंग से सिंचाई करने हेतु इस योजना की शुरुआत की गई।

Q . पीएम कुसुम योजना का रजिस्ट्रेशन कैसे करें?

✓ यदि आप भी प्रधानमंत्री कुसुम योजना का लाभ उठाना चाहते हैं तो आपकी जानकारी के लिए बता दें कि जय योजना राज्य सरकार के विभागों द्वारा कार्यान्वित किया जा रहा है। अपने राज्य की अधिकारी वेबसाइट पर आवेदन कर सकेंगे एवं अधिक जानकारी के लिए नवीन और नवीकरणीय ऊर्जा मंत्रालय (MNRE) की आधिकारिक वेबसाइट www .MNRE.gov.in पर विजिट करें, एवं और सहायता हेतु टोल फ्री नंबर – 1800-180-3333 पर डाल करें

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

Leave a Comment