प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना 2023, आवेदन फॉर्म (PM Matsya Sampada Yojana in Hindi)

4.5/5 - (6 votes)
WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना 2023, आवेदन फॉर्म, (PM Matsya Sampada Yojana in Hindi) यह योजना कब शुरू की गई, इस योजना की अवधि क्या है, योजना के पात्रता क्या हैं, आवश्यक दस्तावेज कौन से होंगे, लाभार्थी कौन होंगे, अधिकारिक वेबसाइट क्या है, हेल्पलाइन नंबर (PM Matsya Sampada Yojana Online Apply)


भारत एक कृषि प्रधान देश है, इस बात को ध्यान रखते हुए, केंद्र सरकार एवं राज्य सरकार के द्वारा विभिन्न योजनाएं कृषि को बढ़ावा देने के उद्देश्य से लाए जाते हैं, जिन से किसानों की अर्थव्यवस्था में सुधार हो सके, व किसान अधिक से अधिक मात्रा में अनाज उगा कर भारत के विकास में अपना सहयोग दे सकें, इसी उद्देश्य से वर्ष 2020 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी की केंद्र सरकार के द्वारा एक योजना की शुरुआत की गई थी , जिसका नाम “प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना” रखा गया, यह योजना मुख्य रूप से जलीय स्तर पर की जाने वाली कृषि व मत्स्य पालन के लिए बनाई गई है, अर्थात इस योजना से नीली क्रांति को बढ़ावा मिलेगा , आइए इस लेख के माध्यम से हम सब जानते हैं की (PMMSY) प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना क्या है, और इस योजना से किसानों को क्या लाभ मिलेगा ।

Pm Matsya sampda Yojana in Hindi
Pm Matsya sampda Yojana in Hindi

PM Matsya Sampada Yojana in Hindi

योजना का पूरा नामप्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना
शुरुआत कब की गई10 सितंबर 2020
योजना शुरू किया गयाकेंद्र सरकार के द्वारा
लाभार्थीमछुआरे
पिछले वर्ष का फंड आबंटन7,523 करोड़ रुपए
मछुआरों के लिए प्रावधान20,000 करोड़ रुपए
रोजगार55 लाख से अधिक
मछली उत्पादन5 वर्षों में 70 लाख टन अतिरिक्त
मछली का निर्यात1,00,000 करोड़ रुपए का
सरकार द्वारा बीमामछुआरों/नाविकों दोनो के लिए

प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना बजट 2023 (PMMSY Yojana)

हर बार की तरह इस वर्ष भी बजट पेश की गई है, जिसमे आप सभी को सरकार के द्वारा चलाई जाने वाली विभिन्न सरकारी योजनाओं बजट के दौरान बड़े बदलाव देखने को मिलेंगे, इन्हीं योजनाओं के साथ ही आप सभी को प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना में भी कुछ बदलाव देखने को मिलेंगे, केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण जी के द्वारा इस वर्ष 2023-24 का बजट पेश किया गया तब उन्हों ने बोला की, प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना के लिए 6000 करोड़ रुपए आवंटित किए गए हैं, साथ ही केंद्रीय वित्त मंत्री के द्वारा यह भी बोला गया की, प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना के लिए 6000 करोड़ रुपए के परिव्यय के एक उप-योजना की शुरुआत भी की जाएगी, इसके अलावा नीली क्रांति को बढ़ावा देने के लिए पहले के मुकाबले कृषि ऋण को भी 20 लाख करोड़ रुपए तक कर दिया गया है ।

प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना का उद्देश्य क्या है? (PMMSY Yojana 2023)

भारत देश के ऐसे किसान (मछुआरे) जो की, मत्स्य पालन या जलीय कृषि के द्वारा अपना जीवन यापन कर रहे हैं, उन मछुआरों की आर्थिक एवं तकनीकी रूप से सहायता प्रदान कर, नीली क्रांति को बढ़ावा देना है, जिसके अंतर्गत मछली पालन कर मत्स्य पालन में वृद्धि करने के पश्चात, मछलियों का अधिक से अधिक मात्रा में अन्य देशों में निर्यात (Export) कर भारत की GDP को बढ़ाना है।

प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना के लाभ/विशेषताएं (PMMSY Yojana)

  • इस से बेरोजगारी काम होगी, जिसके लिए इस योजना के अंतर्गत 55 लाख से अधिक लोगों को रोजगार की प्राप्ति होगी ।
  • मत्स्य उत्पादन के मध्यम से लगभग 1 लाख करोड़ रुपए तक की मछली अन्य देशों में निर्यात किया जाएगा ।
  • इस योजना के अंतर्गत लाभार्थी मछुआरों (किसानों) को क्रेडिट कार्ड भी प्रदान किया जाएगा, जिससे की किसान काम ब्याज दर पर ऋण भी प्राप्त कर सकेंगे।
  • इस योजना से किसानों को जो क्रेडिट कार्ड प्रदान किया जाएगा, उस क्रेडिट कार्ड के मध्यम से किसान को 4 प्रतिशत ब्याजदर पर 3 लाख रुपए की लोन राशि भी प्रदान की जाएगी ।
  • किसानों के द्वारा क्रेडिट कार्ड से लिए गए ऋण, यदि समय अवधि के अंतर्गत ही भुगतान कर दिया जाएगा, तो इस दशा में किसान यदि आगे भी ऋण लेना चाहे तो किसान को उस ऋण पर छूट भी दिया जाएगा।
  • इस योजना के अंतर्गत जो भी किसान जलीय कृषि के लिए ऋण लेना चाहेगा उसे, भारत सरकार के द्वारा, जलीय कृषि के लिए 3 लाख रुपए का ऋण भी प्रदान किया जाएगा ।
  • भारत के केंद्र सरकार ने PM Matsya Sampada Yojana के लिए 20 हजार करोड़ रुपयों का फंड भी सुनिश्चित किया है ।

प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना के लिए पात्रता (PMMSY Yojana)

  • इस योजना का लाभ लेने के लिए आप सभी का भारत देश का नागरिक होना अनिवार्य है ।
  • इस योजना का लाभ केवल भारत देश के मूल निवासी ही उठा सकते हैं ।
  • ऐसे किसान (मछुआरे) को की प्राकृतिक आपदाओं से पीड़ित है, वे सभी भारत के नागरिक इस योजना का लाभ ले सकते हैं ।

प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना के लिए दस्तावेज (PMMSY Yojana)

  • आधार कार्ड
  • निवास प्रमाण पत्र
  • मत्स्य पालन कार्ड
  • बैंक खाता
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • मोबाइल नंबर

प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन

वर्तमान में 19 जुलाई 2023 को आधिकारिक वेबसाइट पर कुछ अपडेट किए गए हैं, प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना में ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया अभी बंद है।

  1. सर्वप्रथम प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना में ऑनलाइन आवेदन करने के लिए अधिकारिक वेबसाइट पर जाएं ।
  2. जैसे ही आप अधिकारिक वेबसाइट के होम पेज पर चले जाते हैं, तो वहां पर आप सभी को (PMMSY) से संबंधित, एक लिंक मिलेगा जिसपर आप को क्लिक करना है ।
  3. लिंक पर क्लिक करने के पश्चात आप सभी को एक नया पेज देखने को मिलेगा जिसमें आप को बुकलेट प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना विकल्प दिखेगा जिसपर आप सभी को क्लिक करना है ।
  4. अब आपके सामने इस योजना से संबंधित एक ऑनलाइन आवेदन फार्म खुल जाएगा, जिस पर आप सभी को मांगी गई सभी जानकारियों को सही से भरना है, आप जब भी इस फार्म को भरें तो दोबारा से ध्यान पूर्वक जरूर पढ़ें, ताकि आवेदन कुशलतापूर्वक हो जाए, यदि आपके द्वारा इस फॉर्म को भरते समय किसी भी प्रकार की गलती हो जाती है, तो आप का आवेदन खारिज भी किया जा सकता है ।
  5. संपूर्ण जानकारी करने के पश्चात आपको दस्तावेज (अपलोड/जोड़ने) अटैच करने का विकल्प दिखेगा ,आप सभी को अटैच के विकल्प पर क्लिक करके मांगे गए सभी दस्तावेजों को अपलोड कर देना है ,ध्यान रहे की सभी दस्तावेजों को आप, प्रिंटर द्वारा स्कैन करके डिजिटल रूप में रखें और अपलोड कर दें ।
  6. जैसे ही आप अपने सभी दस्तावेजों को अटैच कर लेते हैं, तो आप सभी को सबमिट के विकल्प पर क्लिक कर देना है, ऐसा करते ही आप सभी का इस योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया पूरा हो जाएगा ।
आवेदन प्रक्रियाऑनलाइन
अधिकारिक वेबसाइटpmmsy.dof.gov.in
अधिकारिक हेल्पलाइन नंबर1800-425-1660
होमपेजयहां क्लिक करें

अन्य पढ़ें :-

FAQ


  1. प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना की अवधि कितनी है?

    प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना की अवधि 5 वर्षों की है, क्योंकि इस योजना की शुरुआत 20 सितंबर 2022 में की गई है, जिसका कार्यकाल वर्ष 2024-25 तक, भारत के सभी राज्यों के लिए लागू रहेगा ।

  2. प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना किसने शुरू की है?

    प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना, भारत के केंद्र सरकार ने शुरू किया है ।

  3. प्रधान मंत्री मत्स्य संपदा योजना की शुरुआत कब हुई?

    प्रधान मंत्री मत्स्य संपदा योजना की शुरुआत दिनांक 20 सितंबर को वर्ष 2020 में हुई थी ।

  4. मत्स्य संपदा योजना का लाभ कैसे लें?

    यदि आप मत्स्य संपदा योजना का लाभ लेना चाहते हैं, तो इसके लिए अधिकारिक वेबसाइट pmmsy.dof.gov.in पर जाकर ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया को पूर्ण करना होगा।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

Leave a Comment