प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना 2023 : PMFBY List, | Pradhan Mantri Fasal Bima Yojana in hindi

5/5 - (2 votes)
WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

pradhan mantri fasal bima yojana in hindi, प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना क्लेम फॉर्म, प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना ऑनलाइन फॉर्म, फसल बीमा की शिकायत कहां करें, प्रधानमंत्री फसल बीमा शिकायत नंबर, फसल बीमा लिस्ट जिलेवार सूची

हमारे भारत देश के सभी किसानों को उनके द्वारा उगाए गए फसलों पर सुरक्षा प्रदान करने के लिए केंद्र सरकार के द्वारा pradhan mantri fasal bima yojana की शुरुआत की गई है, प्राकृतिक आपदाओं के कारण देश के किसानों के द्वारा उगाए गए फसलों के खराब होने पर भारत सरकार द्वारा किसानों को प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के माध्यम से बीमा कवर की राशि प्रदान की जाती है, अर्थात ऐसे किसान जिनका फसल प्राकृतिक आपदाओं के कारण खराब हो जाता है, वे सभी इस योजना के माध्यम से बीमा दावा की राशि प्राप्त कर सकते हैं, भारत सरकार ने पुराने दो योजनाओं से प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना को बदल दिया है, पुराने दोनों सरकारी योजनाओं का नाम नेशनल एग्री इंश्योरेंस स्कीम एवं मॉडिफाई एग्री इंश्योरेंस स्कीम था, इन दोनों सरकारी योजनाओं में कुछ कमियां पाई गई थी, सरकार द्वारा चलाए जा रहे इन दोनों योजनाओं में जो सबसे बड़ी कमियां पाई गई थी वह थी उनकी लंबी दावा प्रक्रिया।

अगर किसी किसान की फसल खराब वह चाहती थी और किसान को अपने खराब हुए फसल पर क्लेम करने के लिए बहुत सारी परेशानियों से गुजारना पड़ता था, इन्हीं कारणों से सरकार ने पुराने दोनों योजनाओं के स्थान पर प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना को शुरू किया है, यदि आप एक इंसान है? या फिर किसान परिवार से हैं एवं आप भी भारत सरकार द्वारा चलाई जा रही प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना से लाभ प्राप्त करना चाहते हैं, तो इस लेख को ध्यानपूर्वक पढ़ें, इस लेख में आपको योजना से संबंधित सभी जानकारियां उपलब्ध कराई गई है।

रेल कौशल विकास योजना ऑनलाइन आवेदन (Rail Kaushal Vikas Yojana Online Apply 2023)

Pradhan Mantri Fasal Bima Yojana in Hindi 2023

Pradhan Mantri Fasal Bima Yojana in Hindi 2023

1.योजना का नामप्रधानमंत्री फसल बीमा योजना
2.कब शुरू की गई13 मई 2016
3.किसके द्वारा शुरू की गईप्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा
4.मंत्रालयकृषि एवं किसान कल्याण मंत्रालय
5.योजना का उद्देश्यकिसानों के फसल संबंधित हानी की पूर्ति करना
6.लाभार्थीभारत देश के किसान
7.अधिकतम क्लेम राशि₹2,00,000
8.आवेदन मोडऑफलाइन/ऑनलाइन
9.अधिकारिक वेबसाइटpmfby.gov.in
10.पंजीकरण की अंतिम तिथि31 जुलाई 2023
11.आवेदन का स्टेटसयोजना में आवेदन आरंभ है
12.योजना का प्रकारकेंद्र सरकार योजना

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना क्या है (Pradhan Mantri Fasal Bima Yojana kya hai)

देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा देश के किसानों को वित्तीय सहायता प्रदान करने के उद्देश्य से प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना को शुरू किया गया है, योजना का शुभारंभ 13 मई 2016 को मध्यप्रदेश में किया गया था, Pradhan Mantri Fasal Bima Yojana के तहत देश के किसी भी किसानों की फसल खराब हो जाने की स्थिति में सरकार द्वारा योजना के माध्यम से, बीमा कवर की राशि प्रदान करने का प्रावधान किया गया है, देश के हर एक किसानों की आर्थिक स्थिति को देखते हुए सरकार ने प्रीमियम की राशि को बहुत ही कम रखा है, केंद्र सरकार के द्वारा PMFBY की शुरुआत करने से लेकर अब तक देश के लगभग 36 करोड किसानों को बीमा कंवर की राशि प्रदान की जा चुकी है।

निक्षय पोषण योजना रजिस्ट्रेशन 2023 (Nikshay Poshan Yojana in Hindi)

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के माध्यम से अभी तक देश के किसानों को 1.8 लाख करोड़ रुपए बीमा क्लेम राशि प्रदान किया जा चुका है, यह योजना देश के किसानों के लिए है इसलिए इस योजना के माध्यम से देश के अधिक से अधिक किसानों को लाभ पहुंचाया जाना मुख्य उद्देश्य है। जिससे कि जिन किसानों की फसल प्राकृतिक आपदाओं के कारण खराब हो जाए उन सभी किसानों के नुकसान की भरपाई की जा सके, देश के किसानों को फसल बीमा की पॉलिसी का लाभ पहुंचाने के लिए जल्द ही सरकार घर-घर मित्र अभियान शुरू करेगी, ताकि देश के अधिक से अधिक किसानों तक इस योजना का लाभ पहुंचाया जा सके।

योजना में खरीफ की फसलों के लिए आवेदन शुरू हो चुका है, योजना का लाभ लेने के इच्छुक किसान भाई 31 July 2023 तक अपनी फसलों का पंजीकरण करवा सकते हैं, Pradhan Mantri Fasal Bima Yojana के अंतर्गत किसान भाई खरीफ की फसलों में मक्का, धान, कपास, बाजरा, और मूंग की फसल का पंजीकरण करवा सकते हैं, डॉ विनोद जी जो की किसान कल्याण विभाग के उपनिदेशक हैं, इन्हीं के द्वारा यह जानकारी दी गई है, योजना के अंतर्गत धान के लिए प्रीमियम की राशि ₹741 है, मक्का के लिए प्रीमियम राशि 370.51 रुपए है, कपास का प्रीमियम 1798 रुपए है, मूंग के लिए प्रीमियम ₹326 प्रति acre एवं बाजरे का प्रीमियम 348.70 रुपए निर्धारित किया गया है।

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना कब शुरू हुई

13 मई 2016 को भारत देश के प्रधानमंत्री पीएम नरेंद्र मोदी जी के द्वारा प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना का शुभारंभ किया गया है, योजना के अंतर्गत केवल देश के किसान भाई जी आवेदन कर सकते हैं और योजना का लाभ प्राप्त कर सकते हैं।

शौचालय योजना ऑनलाइन फॉर्म व एप्लीकेशन स्टेटस (Free Sauchalay Yojana Apply Online)

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना का उद्देश्य (Pradhan Mantri Fasal Bima Yojana Objective)

भारत एक कृषि प्रधान देश है जहां के कुल क्षेत्रफल का लगभग 51 फीसदी भाग पर कृषि की जाती है, उदयपुर में अधिकांश परिवारों का घर खेती पर ही चलता है, देश के किसान भाई सभी के लिए फसल उगाते हैं लेकिन फिर भी उन्हें कुछ लाभ नहीं मिल पाता है, इसीलिए भारत सरकार ने मुख्यमंत्री फसल बीमा योजना को शुरू किया है जिससे देश के किसानों के फसल प्राकृतिक आपदाओं के कारण फसल नष्ट होने पर देश के किसान भारत सरकार द्वारा चलाए जा रहे प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के अंतर्गत अपना पंजीकरण करवाने के पश्चात अपने नष्ट हुई फसलों का मुआवजा प्राप्त कर सकते हैं।

जैसे कि इस लेख में हमने आपको बताया है की भारत में अधिकतर नागरिक कृषि पर आधारित है यदि किन्ही कारणों से किसानों के द्वारा उत्पादन किए गए बदलो से उन्हें लाभ नहीं मिलता है तो ऐसी अवस्था में बहुत से किसानों को विभिन्न समस्याओं का सामना भी करना पड़ता है, कई बार किसान कर्ज लेकर अपना फसल तैयार करते हैं और प्राकृतिक आपदाओं के कारण उनका फसल नष्ट हो जाता है जिसके कारण किसान भाइयों के ऊपर कर्ज का बोझ भी आ जाता है इस वजह से हमारे किसान भाई काफी टूट जाते हैं, एवं उनकी आर्थिक स्थिति भी खराब हो जाती है।

इन्हीं समस्याओं पर ध्यान केंद्रित करते हुए देश के प्रधानमंत्री पीएम नरेंद्र मोदी जी के द्वारा pradhan mantri fasal bima yojana शुभारंभ किया गया है, इस योजना के माध्यम से देश के उन सभी किसानों को लाभ प्राप्त होगा जिन्होंने प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना में अपना पंजीकरण करवाया है, इस योजना का मुख्य उद्देश्य देश की किसानों के फसलों में होने वाले नुकसान की भरपाई करना, एवं कर्ज की चिंताओं से किसानों को मुक्त करना साथ ही देश के किसानों को कृषि के लिए प्रोत्साहित करना है।

प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना 2023 | Pradhan Mantri Matru Vandana Yojana

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना में आवेदन करने की अंतिम तिथि (Pradhan Mantri Fasal Bima Yojana Lat Date)

अगर आप एक किसान हैं एवं योजना के तहत आप अपने फसल का पंजीयन करवाना चाहते हैं तो आप सभी किसान भाइयों को जल्द से जल्द योजना में आवेदन करवा लेना चाहिए क्योंकि प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के तहत खरीफ एवं रबी की फसलों के लिए पंजीयन शुरू कर दिया गया है, जिसमें सभी किसान 31 जुलाई 2023 तक अपनी फसलों का पंजीयन करवा सकते हैं, रवि की फसलों के लिए रजिस्ट्रेशन केवल 31 दिसंबर 2023 रखी गई है, यदि कोई किसान किन्ही कारणों से अपना प्रीमियम नहीं करवा पाते हैं तो ऐसी अवस्था में उन किसान भाइयों को अंतिम 1 सप्ताह पहले संबंधित बैंक में लिखित रूप में देय करना होगा, सभी किसान भाई बीमियत फसल में बदलाव करना चाहते हैं तो ऐसे में किसान को योजना के अंतिम तिथि से 2 दिन पहले ही अपने बैंक को सूचना देना होगा।

Pradhan Mantri Fasal Bima Yojana के अंतर्गत धन के लिए प्रीमियम की राशि

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना 2023 के अंतर्गत, खरीफ की फसलों में, बाजरा, कपास, मूंग, मक्का और धान पंजीयन किया जाएगा, यह सूचना कृषि एवं किसान कल्याण विभाग के उपनिदेशक डॉ विनोद कुमार जी के द्वारा दी गई है –

(1) खरीफ की फसलों की सूचि

Sr. No फसल का नामप्रीमियम राशि
1.धान741 रुपए
2.कपास1798 रुपए
3.मक्का370.51 रुपए
4.बाजरा348.70 रुपए
5.मूंग₹36 प्रति acre

(2) खरीफ की फसलों की सूचि

Sr. No फसल का नामप्रीमियम राशि
1.गेहूं425 रुपए
2.जौ277.88 रुपए
3.सरसों286.6 रुपए
4.चने212.50 रुपए
5.सूरजमुखी277.88 रुपए

प्रधानमंत्री किसान मानधन योजना 2023 (Pradhan Mantri Kisan Mandhan Yojana Online Apply)

फसल बीमा योजना के अंतर्गत किसानों का कवरेज

भारत देश के अनुसूचित क्षेत्रों में अधिसूचित फसलों की खेती करने वाले किसानों पाटीदार जोतेदार किसान के समेत देश के सभी किसान कवरेज के लिए पात्र माने जाएंगे, आपके अलावा गैर ऋण किसान को अपने राज्य में प्रचलित भूमि रिकॉर्ड अधिकार r-o-r भूमि का कब्जा प्रमाण पत्र एलपीसी के साथ ही अन्य आवश्यक दस्तावेज प्रस्तुत करना होगा, इसके अलावा किसानों को राज्य सरकार के द्वारा अनुमति अनुसूचित लागू अनुबंध समझौता के विवरण साथ ही अन्य संबंधित आवश्यक दस्तावेजों को भी प्रस्तुत करना होगा।

  • ऐसे किसान भाई जिन्होंने अनुसूचित फसलों एवं मौसमी कृषि कार्यों के लिए अनिवार्य घटक वित्तीय संस्थाओं से ऋण लिया हुआ है, वे सभी किसान योजना में अनिवार्यता पात्र होंगे।
  • गैर ऋण एवं शैक्षिक घटक किसानों के लिए यह योजना वैकल्पिक हो सकता है।
  • योजना के अंतर्गत अनुसूचित जाति अनुसूचित जनजाति की श्रेणी के महिला किसानों के लिए अधिक से अधिक कवरेज सुनिश्चित करने हेतु विशेष प्रयास भी किए जाएंगे।
  • फसल बीमा योजना के तहत आवंटन के साथ ही उपयोग संबंधित राज्य के अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति 7 सामान्य वर्ग और भूमि एवं भूमि धारण के अनुपात में किया जाएगा।
  • फसल बीमा योजना पर देश के किसानों की प्रतिक्रिया प्राप्त करने के लिए कार्यान्वयन के लिए पंचायती राज्य संस्थाओं पी आर आई को शामिल किया जाएगा।

Pradhan Mantri Fasal Bima Yojana के तहत जोखिम का कवरेज

फसल के नुकसान के लिए निम्नलिखित से चरण एवं जिस प्रकार का जोखिम जिम्मेदार होगा प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना 2023 के तहत कवरेज किया जाता है, इन के प्रकार क्या होंगे यह लेख में आपको आगे मिल जाएगा।

  • बुवाई अथवा रोपड़ में रोग संबंधित जोखिम :-ऐसे बीमित क्षेत्र जहां पर बारिश कम हो रही हो या फिर मौसम अनुकूल ना हो ऐसी परिस्थितियों के वजह से बुवाई अथवा रोपड़ में उत्पन्न रोक।
  • ऐसी जोखिमें जो की जिनकी वजह से खड़ी फसलें नहीं रोकी जा सकती (फसलों की बुवाई से लेकर कटाई तक के लिए) जैसे :- अकाल, सूखा ,भूस्खलन, सैलाब, बाढ़, बिजली, तूफान, आंधी, चक्रवात, बवंडर, ओले, प्राकृतिक आग, कीट एवं रोग, टेंपेस्ट आदि के कारण कृषि में फसलों की उपज के नुकसान को कवर करने के लिए सरकार द्वारा व्यापक जोखिम बीमा भी प्रदान किया जाएगा।
  • फसलों की कटाई के ठीक बात होने वाले नुकसान :- कटाई के ठीक बाद बेमौसम बारिश, चक्रवात, चक्रवाती बारिश के इस खतरे से उत्पन्न हालातों के लिए फसलों की कटाई से 2 सप्ताह की अवधि के लिए भी कवरेज उपलब्ध है।

PM Kusum Solar Pump Yojana: 90% सब्सिडी पर सोलर पंप लगवाएं और कमाए सालाना 80,000, आवेदन इस प्रकार करें

sarkari yojana
होम पेजयहां से जाएं
व्हाट्सएप ग्रुपज्वाइन करें
टेलीग्राम ग्रुपज्वाइन करें

अन्य पढ़ें –

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

Leave a Comment