Mukhyamantri MatiKala Rojgar Yojana 2023 | आवेदन, पात्रता, लाभ

3.7/5 - (3 votes)
WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री माटीकला रोजगार योजना क्या है? उद्देश्य, लाभ, विशेषताएं, पात्रता, आवेदन, UP Mukhyamantri MatiKala Rojgar Yojana Regitration.


भारत सरकार के द्वारा भारत के नागरिकों के अच्छे से जीवन यापन करने के उद्देश्य से विभिन्न सरकारी योजनाएं चलाई जा रहीं हैं, इन्हीं योजनाओं के बीच उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी के द्वारा एक योजना घोषणां की गई है, जिसका नाम मुख्यमंत्री माटीकला रोजगार योजना (Mukhyamantri MatiKala Rojgar Yojana) रखा गया है, यह योजना उत्तर प्रदेश के कुम्हारों के लिए है, जो की मिट्टी वस्तुएं बनाते हैं। इस योजना से बेरोजगारी की समस्या भी कम होगी, क्योंकि इस योजना के माध्यम से उत्तर प्रदेश में मिट्टी से बने सामानों के व्यापार को बढ़ावा किया जा रहा है, धीरे – धीरे विलुप्त हो रहे इस मिट्टी कला को एकबार फिर इस योजना के द्वारा महत्व दिया जा रहा है, जिसके फल स्वरूप कुम्हार जाति के नागरिक ,जो की अपनी इस कला को छोड़ रहे थे, अब उन्हें इस योजना के अंतर्गत अपने कारोबार को बढ़ाने के लिए बिना किसी ब्याजदर के ऋण प्रदान किया जाएगा।

Mukhyamantri MatiKala Rojgar Yojana

Table of Contents

Mukhyamantri MatiKala Rojgar Yojana

योजना का नाममुख्यमंत्री माटी कला रोजगार योजना
वर्ष2023
किसके द्वारा चलाई गईउत्तरप्रदेश के राज्य सरकार द्वारा
राज्यउत्तर प्रदेश
लाभार्थीकुम्हार प्रजाति के नागरिक
उद्देश्यमाटीकला को बढ़ावा देना
लाभ₹5 लाख तक का ऋण बिना किसी ब्याजदर के
आवेदन की प्रक्रियाऑफलाइन

मुख्यमंत्री माटीकला रोजगार योजना क्या है?

माटीकला रोजगार योजना एक ऐसी योजना है, जिसके अंतर्गत उत्तर प्रदेश के ऐसे नागरिक जो की माटी कला में निपुण हैं, उन्हें अपने इस कार्य को आगे बढ़ाने के लिए सरकार के द्वारा ₹5 लाख तक का ऋण बिना किसी अतिरिक्त ब्याज दर के उपलब्ध कराया जाएगा।

स्वच्छ भारत और अच्छी सेहत को ध्यान में रखते हुए, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने एक सही फैसला लेते हुए, इस प्रभावशाली योजना की शुरुआत करी है, क्योंकि आज के समय में बढ़ते हुए, प्लास्टिक एवं अन्य धातुओं से बने हुए वस्तुओं का उपयोग निरंतर बढ़ता जा रहा है, साथ ही मशीनीकरण की वजह से बेरोजगारी भी बढ़ती जा रही है, इसके अलावा प्लास्टिक और अन्य धातुओं से बनी वस्तुओं से हमारी सेहत पर बहुत ही दुष्प्रभाव पड़ता है, आज के समय में लोग प्लास्टिक या अन्य वस्तुओं से बने बर्तनों में खाने और पीने का सामान रखते हैं, जिनसे अनेकों बीमारियां हमारे शरीर में जन्म लेती हैं, उन सभी बीमारियों में से एक कैंसर जैसी बीमारी भी है,

Mukhyamantri MatiKala Rojgar Yojana के मध्यम से घरेलू वस्तुएं जैसे :- मटके, सुराही, गिलास, कप, प्लेट्स,प्रेशर कूकर, अचरदानी, जग, कटोरियां, कुल्हड़, अन्य

भवन निर्माण की वस्तुएं :- लैट्रिन पैन, वाश बेसिन, रूफ टाइल्स, फ्लोर टाइल्स, पाइप और विभिन्न वस्तुएं

सजावटी वस्तुएं :- बोनसाई पॉट्स, गमले, गार्डन पॉट्स, लैंप्स ,गुलदस्ते साथ ही मिट्टी से बने खिलौने आदि वस्तुएं तैयार करने हेतु प्रशिक्षित अभ्यर्थियों को इस योजना के तहत ऋण प्रदान किया जाएगा ।

उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री माटीकला रोजगार योजना का उद्देश्य

बढ़ते हुए प्लास्टिक एवं अन्य धातुओं से बनी वस्तुओं का उपयोग निरंतर रूप से बढ़ते हुए देख, उत्तर प्रदेश के राज्य सरकार के द्वारा मुख्यमंत्री माटीकला रोजगार योजना शुरू किया गया है, जिसका मुख्य उद्देश्य मिट्टी की वस्तुएं बनाकर जीवन यापन करने वाले “कुम्हार” कारीगरों को आर्थिक सहायता प्रदान कर, रोजगार उपलब्ध कराना है, जिसके फल स्वरूप प्लास्टिक एवं अन्य धातुओं से बने हुए वस्तुओं के उपयोग पर कमी लाना है।

इस योजना के माध्यम से उत्तर प्रदेश के लगभग 15000 कुम्हार जाति के नागरिकों को, स्वयं के रोजगार के अवसर अवसर प्राप्त होंगे, जिससे की इस बढ़ती हुई बेरोजगारी में भी कमी आएगी, साथ ही मिट्टी से बने स्वदेशी वस्तुओं से वातावरण भी स्वच्छ रहेगा।

कक्षा 8वीं उत्तीर्ण प्रशिक्षित कुम्हार अभ्यर्थि कर सकते हैं आवेदन

उत्तर प्रदेश के कुम्हार जाति के ऐसे नागरिक जो की आठवीं कक्षा उत्तीर्ण है एवं जिनकी आयु सीमा 18 वर्ष है एवं ऐसे व्यक्ति जो अपने प्रतिभा के बल पर इस व्यापार को बड़े पैमाने पर करना चाहते हैं उन्हें सरकार इस योजना के अंतर्गत बैंक द्वारा ₹10,00000 के प्रोजेक्ट पर काम करने के लिए ऋण राशि प्रदान करेगी।

इस योजना के अंतर्गत इन सभी कला के प्रकारों में महारत हासिल करने वाले व्यक्ति को ही लाभ मिल सकेगा जो निम्न प्रकार :-

  • (1) घरेलू उपकरण – खिलौना निर्माण, घड़ा ,सुराही, जग, कुल्हड़, गिलास, कटोरी, अचार दानी, कप, प्लेट, डोंगे, कलश, हवन कुंड आदि निर्माण
  • (2) घरेलू निर्माण उपकरण- फ्लोर टाइल्स रूम टाइल्स लेटरिंग पेन पाइप वाँश बेसिन आदि
  • (3) सजावट सामान- गुलदस्ता गार्डन पार्ट्स बोनसाई पार्ट्स लैंप्स आदि

मुख्यमंत्री माटी कला रोजगार योजना 2023 के अनुसार इस प्रोजेक्ट में काम करने के लिए बैंक द्वारा दी जा रही लोन की राशि के लिए बैंक के कुछ नियम ध्यान पूर्वक जानना होगा की प्रोजेक्ट लागत का प्रतिशत उद्यमी अंशदान एवं 95% बैंक अनुमान्य में होगा बैंक के नियमानुसार 5 वर्ष के लिए यह ऋण राशि दी जाएगी और इसमें 25% मार्जिन मनी के रूप में शासन द्वारा उपलब्ध कराया जाएगा। इस आवेदन में जिज्ञासा रखने वाले अभ्यार्थी जिला ग्रामोद्योग कार्यालय मे अपनी सुविधा अनुसार किसी भी दिन जाकर नि:शुल्क आवेदन पत्र प्राप्त कर सकते हैं। एवं इसकी सभी महत्वपूर्ण जानकारी जानकर इसमें सारा विवरण दर्ज करना होगा और इसे 30 अप्रैल 2022 तक जमा करना होगा अभ्यर्थी का चयन शासन द्वारा निर्धारित समिति द्वारा किया जाएगा।

मुख्यमंत्री माटीकला रोजगार योजना के लाभ/विशेषताएं

  • मुख्यमंत्री माटी कला रोजगार योजना का लाभ उठाने वाले उत्तर प्रदेश के बेरोजगार नागरिक होंगे
  • इस योजना से लाभान्वित होने वाले राज्य के ऐसे नागरिक जो माटी कला में निपुण है एवं कोई अवसर मिलने की आस में है उनके लिए यह योजना समर्पित है।
  • उत्तर प्रदेश राज्य सरकार के अंतर्गत प्रत्येक जिलों से मूर्तिकला के एवं माटी कला के प्रतिभावान 15000 कुम्हारों को इस योजना के अंतर्गत सम्मिलित किया जाएगा।
  • मुख्यमंत्री माटी कला रोजगार योजना 2023 को चलाने से स्वच्छता पर प्रकाश डाला गया है माटी के बर्तनों के उपयोग से हम प्लास्टिक के बर्तनों को आए दिनों हटा सकेंगे।
  • जब प्लास्टिक के बर्तनों पर रोक लगेगी तब मिट्टी के बर्तनों को लोग खरीदेंगे इससे स्वास्थ्य पर कोई प्रभाव नहीं पड़ेगा।
  • इस योजना का लाभ उठाने के लिए नागरिकों की पढ़ाई आठवीं कक्षा पास होनी चाहिए और साथ ही आयु सीमा 18 वर्ष की होनी चाहिए तत्पश्चात वह इस योजना का लाभ उठा सकेंगे
  • इस योजना का अद्भुत लाभ यह भी है किस योजना से लाभान्वित होने वाले नागरिक घर बैठे लोन लेकर अपने व्यापार को बड़े पैमाने पर कर सकेंगे
  • ₹500000 की धनराशि सरकार द्वारा लोन के रूप में दी जाएगी जिससे माटी कला में निपुण कुम्हार नागरिक अपने व्यापार को एक नई दिशा दे पाएंगे

मुख्यमंत्री माटीकला रोजगार योजना का पात्रता

राज्य सरकार की इस योजना में माटी कला के निपुण नागरिकों को पात्रता हेतु इन सभी मापदंडों को पूर्ण करना होगा।

  • इस योजना का लाभ उठाने के लिए आवेदक उत्तर प्रदेश का मूल निवासी होना चाहिए प्रमाण पत्र सहित तभी इस योजना के पात्र हो पाएंगे
  • इस योजना से प्राप्त होने वाले ऋण अथवा लोन ₹500000 की धनराशि के लिए निर्धारित पारिवारिक आय सीमा होना अनिवार्य है क्योंकि यह योजना गरीब परिवार के लिए है ऐसे लोगों की ही पात्रता होगी
  • इस योजना का लाभ उठाने के लिए बेरोजगार आवेदक को ही पात्रता होगी।
  • इस योजना की पात्रता के लिए राज्य के कुम्हार जाति को इस योजना का लाभ मिल सकेगा।

मुख्यमंत्री माटीकला रोजगार योजना के लिए आवश्यक दस्तावेज

मुख्यमंत्री माटी कला रोजगार योजना के अंतर्गत आवेदन के दौरान आवेदक को इन सभी दस्तावेजों को संलग्न कराना अनिवार्य होगा-

  • आवेदन करने के लिए आधार कार्ड सबसे पहले आवश्यक दस्तावेज होगा
  • आपकी जाति पहचान के लिए जाति प्रमाण पत्र
  • उत्तर प्रदेश का होने के लिए निवास प्रमाण पत्र
  • सरकार द्वारा लाभ प्राप्त हेतु बैंक खाता विवरण
  • आवेदक के आय की पुष्टि हेतु आय प्रमाण पत्र
  • आपके पहचान के रूप में राशन कार्ड
  • योजना से संबंधित सूचना हेतु मोबाइल नंबर
  • आवेदक की सही पहचान हेतु पासपोर्ट साइज फोटो

मुख्यमंत्री माटीकला रोजगार योजना का आवेदन

  • इस योजना में आवेदन हेतु आपको अपने निकटतम सहायता केंद्र में जाना होगा।
  • सहायता केंद्र में पहुंचते ही आपको वहां उपस्थित अधिकारी से फॉर्म भरने के लिए मुख्यमंत्री माटी कला रोजगार योजना 2023 का आवेदन फॉर्म लेना होगा।
  • अब इस आवेदन फॉर्म में पूछी गई सारी जानकारियों ध्यान पूर्वक पढ़ना होगा पूछे गए अनुसार भरना होगा एवं मांगे गए सभी दस्तावेजों को संलग्न करना होगा।
  • यह सभी प्रक्रिया पूर्ण होने के पश्चात आपके द्वारा भरा गया यह आवेदन पत्र उसी अधिकारी को देना होगा जिससे आपने आवेदन पत्र प्राप्त किया है
  • आप से प्राप्त आवेदन शाम को अधिकारी द्वारा सिस्टम पर लोड किया जाएगा और आप की जानकारी को जांच के लिए रोजगार कार्यालय में भेज दिया जाएगा
  • रोजगार कार्यालय एवं अधिकारियों द्वारा आपके प्रतिभा एवं दस्तावेजों की सही पुष्टि होने के पश्चात आपको कॉल करके सूचित कर दिया जाएगा।

इन्हें भी पढ़ें


FAQ:-

Q. मुख्यमंत्री माटी कला रोजगार योजना का लाभ किसे मिलेगा?

Ans- इस योजना का लाभ उत्तर प्रदेश के मूलनिवासी एवं कुम्हार जाति के नागरिकों को मिलेगा एवं जो आठवीं पास अभ्यर्थी होंगे और साथ ही जिन की आयु सीमा 18 वर्ष की होगी और अपनी कला में निपुण होंगे ऐसे लोगों को इस योजना का लाभ मिलेगा।

Q. मुख्यमंत्री माटी कला रोजगार योजना की शुरुआत कब हुई?

Ans- इस योजना की शुरुआत हाल ही में सन् 2023 में की गई

Q. मुख्यमंत्री माटी कला योजना मे सरकार द्वारा कितना लोन दिया जाएगा?

Ans- यदि आप इस योजना से अपने व्यापार को बड़े पैमाने पर करना चाहते हैं तो सरकार आपको ₹500000 का लोन मुफ्त ब्याज दर पर देगी और इसके लिए आपका कुम्हार जाति का होना अनिवार्य है।

Q. मुख्यमंत्री माटी कला रोजगार योजना किस राज्य में चलाया जा रहा है?

Ans- यह योजना राज्य सरकार आदित्यनाथ योगी जी के द्वारा उत्तर प्रदेश में चलाया जा रहा है।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

Leave a Comment