UP Gaushala Yojana in Hindi 2023 | यूपी गौशाला योजना ऑनलाइन पंजीकरण

5/5 - (3 votes)
WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

यूपी गौशाला योजना 2023 क्या है? प्राधिकरण से अपील, हेल्पलाइन नंबर, (up gaushala yojana registration online apply in hindi) (UP Gaushala Yojana in Hindi 2023) (uttar pradesh Gaushala Yojana in Hindi) यूपी गौशाला योजना का उद्देश्य क्या है, लाभ एवं विशेषताएं, पात्रता, आवश्यक दस्तावेज, रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया, प्रमाणीकरण सत्यापन, यूपी गौशाला योजना 2023, ऑनलाइन पंजीकरण

सड़कों पर घूम रहे बेघर गायों के संरक्षण हेतु उत्तर प्रदेश कि सरकार के द्वारा इन गायों की देख-रेख के लिए विभिन्न प्रयास किए जा रहे हैं, जिसके अंतर्गत सरकार के द्वारा उत्तर प्रदेश के जिलों में इन गायों के लिए सरकारी खर्चे पर गौशाला का निर्माण कार्य भी किया जा रहा है, गायों के संरक्षण हेतु गौशाला निर्माण का कार्य गांव के प्रधानों को सौंपा गया है, सरकार के द्वारा इन बेघर गायों के लिए योजना के माध्यम से एक महत्वपूर्ण निर्णय लेते हुए एक योजना की शुरुआत की है, जिसका नाम UP Gaushala Yojana रखा गया है, इस योजना के माध्यम से उत्तर प्रदेश की सरकार उत्तर प्रदेश के नागरिकों को गौशाला निर्माण हेतु आर्थिक सहायता प्रदान करेगी, इसके अलावा गौशालाओं पर काम कर रहे कर्मचारियों को प्रशिक्षण भी प्रदान किया जाएगा, आइए इस लेख के माध्यम से हम सब जानते हैं कि यूपी गौशाला योजना क्या है एवं इसके लिए ऑनलाइन पंजीकरण कैसे करना है।

यूपी गौशाला योजना 2023, ऑनलाइन पंजीकरण (UP Gaushala Yojana in Hindi)

यूपी गौशाला योजना 2023 (UP Gaushala Yojana in Hindi)

योजना क्या हैयूपी गौशाला योजना
योजना की शुरुआत किसके द्वारा की गईउत्तर प्रदेश सरकार द्वारा
राज्यउत्तर प्रदेश
उद्देश्यप्रदेश में स्थित गौशालाओं का विकास करना
लाभार्थीप्रदेश में स्थित गौशाला
वर्ष2023
आवेदन प्रक्रियाऑनलाइन
यूपी गौशाला योजना की शुरुआत कब की गई8 अगस्त वर्ष 2019
जमीनकम से कम 5 बीघा जमीन होना चाहिए
हेल्पलाइन नंबर0522-2740-238 और 0522- 2740-482
Key Highlights Of UP Gaushala Yojana 2023

यूपी गौशाला योजना क्या है (UP Gaushala Yojana in Hindi)

उत्तर प्रदेश में वर्तमान समय पर लगभग 498 गौशाला में उपलब्ध है, इन गौशालाओं के प्रबंधन हेतु उत्तर प्रदेश सरकार के द्वारा गौशाला अधिनियम 1964 की शुरुआत की गई है, इस अधिनियम को सरकार के द्वारा संपूर्ण उत्तर प्रदेश राज्य में लागू किया जाएगा, राज्य सरकार द्वारा इन सभी गौशालाओं के विकास हेतु अनेकों सरकारी योजनाएं भी संचालित की जा रही है। इन सरकारी योजनाओं के माध्यम से सरकार के द्वारा आर्थिक सहायता प्रदान की जाती है, साथ ही उन श्रमिकों को प्रशिक्षण भी दिया जाता है जोकि इन गौशालाओं में कार्य कर रहे है। यदि कोई गौशाला प्रबंधक इस योजना का लाभ प्राप्त करना चाहता है तो उसे पंजीकरण करवाना अनिवार्य है, उत्तर प्रदेश के प्रादेशिक गौशाला रजिस्ट्रेशन प्रणाली के अंतर्गत गौशाला के प्रबंधक के द्वारा पंजीकरण किया जा सकता है, यह पंजीकरण आवेदक के द्वारा भी किया जा सकता है या फिर सीएससी केंद्र (जन सेवा केंद्र) पर जाकर भी किया जा सकता है।

उत्तर प्रदेश का जो भी नागरिक इस योजना का लाभ लेना चाहता है, वह नागरिक किसी भी सरकारी कार्यालय में ना जाकर घर बैठे ही आधिकारिक वेबसाइट पर जाने के पश्चात ऑनलाइन पंजीकरण कर सकता है।

यूपी गौशाला योजना का उद्देश्य

UP Gaushala Yojana का मुख्य उद्देश्य गौशाला अधिनियम 1964 के अंतर्गत यूपी राज्य के गौशालाओं का विकास करना है। इस योजना के के माध्यम से उत्तर प्रदेश राज्य के गौशालाओं के विकास हेतु सरकार द्वारा आर्थिक सहायता प्रदान किया जाएगा, साथ ही गौशालाओं पर काम कर रहे श्रमिकों को प्रशिक्षण दिया जाएगा, सरकार के द्वारा चलाई जा रही इस योजना कैलाश से गौशालाओं का संचालन की सही तरीके से किया जा सकेगा, इस योजना के माध्यम से ना केवल गौशालाओं का विकास कार्य किया जाएगा बल्कि नागरिकों को रोजगार की प्राप्ति भी होगी, इस योजना के अंतर्गत लाभ लेने के लिए नागरिकों को आवेदन प्रक्रिया जारी कर दी गई है, जो कि सरकार के द्वारा जारी की गई योजना से संबंधित अधिकारिक वेबसाइट पर घर बैठे ही किया जा सकता है, किसके लिए आवेदक को किसी भी सरकारी कार्यालय जाने की आवश्यकता नहीं है।

यूपी गौशाला योजना के लाभ एवं विशेषताएं (Benefit and Features of UP Gaushala Yojana in Hindi)

  • गौशाला अधिनियम 1964 के अंतर्गत यूपी गौशाला योजना की शुरुआत की गई है, इस अधिनियम को उत्तर प्रदेश के संपूर्ण राज्य में लागू कर दिया गया है।
  • इस योजना से बेघर गायों को रहने के लिए छत मिलेगा साथ ही गायों का देख-रेख ही अच्छे से किया जाएगा।
  • उत्तर प्रदेश में लगभग 498 गौशाला उपलब्ध है, जिनके विकास कार्य हेतु राज्य सरकार के द्वारा आर्थिक सहायता प्रदान किया जा रहा है।
  • गौशालाओं के विकास कार्य के अलावा नागरिकों को रोजगार की प्राप्ति होगी, एवं कार्य करने वाले श्रमिकों को प्रशिक्षित भी किया जाएगा।
  • सरकार के द्वारा इस योजना से संबंधित अधिकारिक वेबसाइट भी जारी कर दी गई है, जहां पर यूपी गौशाला योजना से संबंधित विभिन्न महत्वपूर्ण जानकारियां भी आसानी से प्राप्त की जा सकती हैं।
  • इस योजना का लाभ लेने के लिए आवेदन प्रक्रिया ऑनलाइन रखा गया है, जिससे कि अभी तक घर बैठे ही इस योजना का लाभ लेने के लिए ऑनलाइन आवेदन कर सकता है।
  • आवेदक चाहे तो अधिकारिक वेबसाइट पर जाकर स्वयं की पंजीकरण कर सकता है, अथवा चाहे तो अपने ग्राम के नजदीकी जन सेवा केंद्र से भी रजिस्ट्रेशन कर सकता है।
  • इस योजना का लाभ लेने के लिए आवेदक को गौशाला का पंजीकरण करवाना अनिवार्य है।

यूपी गौशाला योजना में पात्रता

  • केवल उन्हीं गौशालाओं को इसी योजना के अंतर्गत लाभ मिल पाएगा जो उत्तर प्रदेश राज्य के अंतर्गत आते होंगे।
  • योजना का पात्र होने के लिए गौशाला का पंजीकरण होना अनिवार्य है, केवल पंजीकृत गौशालाओं को ही इस योजना के अंतर्गत गौशाला के विकास हेतु आर्थिक सहायता प्रदान किया जाएगा।

यूपी गौशाला योजना में दस्तावेज़

  • गौशाला के अंतर्गत जितने भी गोवंश होंगे उन सभी गौवंशों का विवरण प्रमाण पत्र।
  • जिस भूमि पर गौशाला बनवाई गई हो उस भूमि के अभिलेख (दस्तावेज) की प्रति।
  • संस्था के सोसाइटी रजिस्ट्रेशन प्रमाण पत्र, उद्देश्य एवं निगम वाले की प्रति।
  • गौशाला के अंतर्गत जितने भी आय एवं व्यय होंगे, उनका संपूर्ण विवरण।
  • गौशाला पंजीकरण करवाने के लिए संस्था की कार्यकारिणी द्वारा प्रस्ताव की प्रति।
  • गौशाला स्थापित करते समय जो संबंधित लेख या प्रस्ताव।
  • योजना में समिति के आधार कार्ड की प्रति।
  • समिति के पैन कार्ड की प्रति।
  • घोषणा पत्र पर समस्त अधिकारियों का हस्ताक्षर होना अनिवार्य है।
  • यूपी गौशाला योजना में समिति के बैंक खाते का संपूर्ण विवरण।

यूपी गौशाला रजिस्ट्रेशन फॉर्म  (up gaushala yojana registration online apply in hindi) 

  • योजना के अंतर्गत ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करने के लिए आपको सर्वप्रथम प्रदेशिक गौशाला पंजीकरण प्रणाली, उत्तर प्रदेश की अधिकारिक वेबसाइट के होमपेज पर चले जाना है।
  • अब आपको मेनू बार में रजिस्ट्रेशन (registration) के विकल्प पर क्लिक करना है।
up gaushala yojana registration online apply in hindi
up gaushala yojana registration online apply in hindi
  • अब आपके सामने रजिस्ट्रेशन फॉर्म खुलेगा जिसमें आपको निम्नलिखित विकल्प देखेंगे।
    1. गौशाला का नाम (Goshala Name)
    2. एस्टेब्लिशमेंट डेट (Establishment date)
    3. जिला (District)
    4. आवेदक का नाम (Applicant Name)
    5. आवेदक के पिता का नाम (Father’s Name)
    6. यूजर नेम (User Name)
    7. ईमेल (Email)
    8. पासवर्ड बनाएं (Create Password)
    9. पासवर्ड का सत्यापन करें (Confirm Password)
  • इन सभी जानकारियों को प्रदान करने के पश्चात दिए गए खाली चेक बॉक्स को चेक करके सबमिट के विकल्प पर क्लिक करना है।
  • आपके द्वारा दिए गए मोबाइल नंबर पर आपकी यूजर आईडी एवं पासवर्ड भेजी जाएगी।
  • अब इस यूजर आईडी एवं पासवर्ड का उपयोग करके इस वेबसाइट पर लॉगइन कर लें।
  • जैसे ही आप अपनी यूज़र आईडी एवं पासवर्ड के जरिए लॉगइन करते हैं तो आपके सामने आवेदन करने का फॉर्म खुल जाएगा।
  • इस फार्म में आप सभी को आवेदक से संबंधित पूछे गए संपूर्ण जानकारियां प्रदान करनी है।
  • अब आपको आवश्यक दस्तावेजों के पीडीएफ फाइल को अपलोड कर देना है (प्रिंटर द्वारा स्कैन किया गया)
  • आवश्यक दस्तावेजों को अपलोड करने के बाद आपको सबमिट के विकल्प पर क्लिक कर देना है।
  • इस प्रकार आपका ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया पूर्ण होगा।

UP Gaushala Yojana सर्टिफिकेट वेरिफिकेशन करने की संपूर्ण प्रक्रिया

  • सर्वप्रथम आप सभी को यूपी गौशाला योजना सर्टिफिकेट वेरीफिकेशन हेतु प्रदेशिक गौशाला पंजीकरण प्रणाली, उत्तर प्रदेश की अधिकारिक वेबसाइट के होमपेज पर चले जाना।
  • होम पेज पर पहुंचने के पश्चात आप सभी को वेरिफिकेशन का विकल्प दिखेगा, आप सभी को वेरिफिकेशन के विकल्प पर क्लिक करना है।
  • अब आपसे जनपद संख्या एवं प्रमाण पत्र संख्या भरने को बोला जाएगा, आपको यह दोनों जानकारियां प्रदान कर देनी है।
  • अब आप सभी को गेट स्टेटस विकल्प दिख रहा होगा, जिस पर आप को क्लिक करना है।
  • इस तरह से सर्टिफिकेट वेरीफिकेशन हो जाएगा।

गौशाला लिस्ट कैसे देखें? (गौशाला लिस्ट उत्तर प्रदेश)

  • यूपी गौशाला योजना सूची देखने के लिए, सबसे पहले योजना के आधिकारिक वेबसाइट पर चले जाना है।
  • आधिकारिक वेबसाइट के होम पेज पर आप सभी को गौशाला का विकल्प दिखेगा, जिस पर आप को क्लिक करना है।
  • अब आपके सामने गौशाला लिस्ट खुलकर आ जाएगा, पर आप गौशाला की लिस्ट देख सकते हैं।

UP Gaushala Yojana लॉगिन करने की प्रक्रिया

  • लॉग इन करने हेतु सर्वप्रथम प्रदेशिक गौशाला पंजीकरण प्रणाली, उत्तर प्रदेश की आधिकारिक वेबसाइट के होम पेज पर चले जाना है।
  • अधिकारिक वेबसाइट के होम पेज पर आप सभी को लॉगइन का विकल्प दिखेगा जिस पर आपको क्लिक करना है।
  • इस पेज पर आपको अपना यूजर आईडी (यूजरनेम) एवं पासवर्ड, करने के पश्चात जो लॉगइन का विकल्प दिख रहा है, आप सभी को उसी लॉगिन वाले विकल्प पर क्लिक करना है।
  • इस प्रकार लॉकिंग प्रक्रिया संपूर्ण हुआ।

यूपी गौशाला योजना में अथॉरिटी से अपील करें

  • सर्वप्रथम प्रदेशिक गौशाला पंजीकरण प्रणाली, उत्तर प्रदेश की आधिकारिक वेबसाइट के होम पेज पर चले जाना है।
  • अधिकारिक वेबसाइट के होम पेज पर आप सभी को सबसे ऊपर अपील टो अथॉरिटी का विकल्प दिखेगा जिस पर आपको क्लिक करना है।
यूपी गौशाला योजना में अथॉरिटी से अपील करें
यूपी गौशाला योजना में अथॉरिटी से अपील करें
  • अब आपको एक नया पेज दिखाई देगा , किस पेज पर आपको निम्नलिखित सभी जानकारियां प्रदान करनी है जैसे :-
    • फुल नेम
    • विलेज
    • थाना
    • डिस्ट्रिक्ट
    • ईमेल आईडी
    • फादर/हस्बैंड नेम
    • पोस्ट
    • तहसील
    • मोबाइल नंबर
  • यह सभी जानकारियां प्रदान करने के पश्चात आपको नीचे में दायीं ओर सेंट अपील का एक नीले रंग का बटन दिखेगा जिस पर आप को क्लिक करना है।
  • इस तरह आप की अपील करने की प्रक्रिया पूर्ण हुई।

होम पेजयहां उपलब्ध है
अधिकारिक वेबसाइटयहां उपलब्ध है
फैक्स 0522-2740202
ईमेल jdgoshala.up@gmail.com
पता Badshahbagh Lucknow Uttar Pradesh

इन्हें भी पढ़ें –

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

Leave a Comment