उत्तर प्रदेश मातृभूमि योजना 2023:ऑनलाइन आवेदन

4.6/5 - (5 votes)
WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

उत्तर प्रदेश मातृभूमि योजना 2023:ऑनलाइन आवेदन, लाभ, पात्रता, दस्तावेज, अधिकारिक वेबसाइट | Uttar Pradesh Matrubhumi Online Application Hindi (UP Matrubhumi Yojana in Hindi) |


हमारे भारत देश का हर एक नागरिक अपनी जन्मभूमि से अधिक प्रेम एवं लगाव रखता है, लेकिन फिर भी रोजगार ना होने के कारण बहुत से नागरिक अपनी जन्मभूमि को छोड़कर रोजगार की तलाश में अन्य क्षेत्रों में जाकर सफल होने के लिए संघर्ष करते हैं, ऐसे व्यक्ति जितने भी आर्थिक रूप से सक्षम हो जाएं, लेकिन अपनी जन्मभूमि छोड़ने को लेकर इन नागरिकों के दिल में एक कसक सी बनी रहती है।

ये लोग अपनी जन्मभूमि का विकास तो चाहते हैं, लेकिन इन्हें न ही कोई निजी समर्थन नहीं मिल पाता है और न ही किसी भी प्रकार से सरकारी सहयोग मिल पाता है, इसी बात पर उत्तर पदेश की, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी की सरकार ने विचार विमर्श करते हुए, उत्तर प्रदेश नागरिकों को आर्थिक सहयोग प्रदान करने के उद्देश्य से एक जन प्रोत्साहन योजना बनाई जिसका नाम “उत्तर प्रदेश मातृभूमि योजना रखा गया”

UP Matrubhumi Yojana के लाभ से उत्तरप्रदेश के ऐसे नागरिक जो की अपनी जन्मभूमि के विकास के लिए कुछ करना चाहते हैं, सरकार उन नागरिकों के विकास कार्य में आर्थिक रूप से सहायता करेगी, जिससे की उत्तरप्रदेश के नागरिक अपने सपनों को साकार कर सकेंगे, परंतु उत्तरप्रदेश की सरकार नागरिकों का सहयोग तभी करेगी, जब आप के द्वारा किए जाने वाले विकास कार्य से गांव नागरिकों को भी लाभ मिलेगा साथ ही, गांव वासियों की बुनियादी जरूरतों को पूरा करती हो ।

UP Matrubhumi Yojana in Hindi

योजना का नामउत्तर प्रदेश मातृभूमि योजना
राज्यउत्तर प्रदेश
शुरुआत करने की तिथि15 सितंबर वर्ष 2021
सरकारउत्तर प्रदेश राज्य सरकार
किसके द्वारा शुरू की गईउत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी के द्वारा
उद्देशविकास कार्यों को बढ़ाना
लाभार्थीउत्तर प्रदेश के आम नागरिक
श्रेणीराज्य सरकारी योजना
लागत राशि का सहयोग50% राज्य सरकार द्वारा
50% व्यक्तियों व निजी संस्थान द्वारा
हेल्पलाइन नंबरजारी नहीं हुआ है

उत्तर प्रदेश मातृभूमि योजना क्या है?

उत्तर प्रदेश मातृभूमि योजना के अंतर्गत उत्तर प्रदेश के नागरिक जो भी गांव के विकास से संबंधित कार्य करना चाहते हैं, उन्हें उत्तरप्रदेश सरकार के द्वारा आर्थिक मदद मिलेगी, निजी संस्थान राज अधिनियम की धारा 15 के अंतर्गत, उत्तरप्रदेश का कोई भी नागरिक या नागरिकों का समूह , गांव के विकास संबंधित कार्य, ग्राम पंचायत में विकास से संबंधी कार्य, व अन्य ऐसे कार्य जिससे की गांव के नागरिकों को भी लाभ हो वे सभी हितकारी कार्य कर सकता है, या कार्य करा सकता है ,इन विकास कार्यों में लगने वाली धनराशि दो भागों में विभाजित रहेगा, (1) 50% की लागत राशि या तो विकास कार्य करने वाले व्यक्ति द्वारा दी जाएगी या व्यक्तियों के समूहों द्वारा लागत राशि का सहयोग किया जाएगा, (2) बाकी 50% सहयोग राशि उत्तरप्रदेश की सरकार (निजी संस्थान) द्वारा प्रदान की जाएगी ।

इस प्रयास से उत्तरप्रदेश के मूल निवासियों को अपने मातृभूमि के विकास कार्य से जुड़ने का अवसर मिलेगा इसमें ग्रामीण क्षेत्रों में विकास कार्य बहोत ही तेजी से होगा व उन कार्यों में गुणात्मक सुधार और नए विचार के साथ नई तकनीकों का समावेश भी होगा , इस योजना के अंतर्गत सहयोगकर्ता (एक व्यक्ति या व्यक्तियों का समूह) अपने पसंद की एजेंसी या चाहे तो स्वयं भी कार्य को कर सकता है।

यूपी मातृभूमि योजना का उद्देश्य

यूपी मातृभूमि योजना का प्रमुख उद्देश्य, उत्तर प्रदेश के ग्रामीण क्षेत्रों का विकास करना, अर्थात ऐसे नागरिक जो की अपनी जन्मभूमि उत्तर प्रदेश के लिए विकास कार्य करना चाहते हों, उन्हें सहयोग प्रदान कर गांव का विकास करना है, ये विकास कार्य ऐसे विकास कार्य होंगे जिनसे ग्रामीण क्षेत्रों के नागरिकों को लाभ प्राप्त होगा, जैसे :- ग्रामीण क्षेत्रों में, आंगनबाड़ी, सामुदायिक भवन, स्वास्थ्य केंद्र, व्यायाम शाला, बस स्टैंड, पुस्तकालय, फायर सर्विस सेंटर ,ओपन जिम, प्राथमिक चिकित्सक स्वास्थ्य केंद्र, अंत्येष्टि स्थल का विकास आदि का निर्माण कर विकास कार्य किया जाएगा, इसके साथ ही स्मार्ट विलेज बनाने के लिए, वाटर ट्रीटमेंट व्यवस्था, स्वच्छ पेय जल हेतु आर ओ, सीसी टीवी कैमरे, सोलर स्ट्रीट लाइट आदि निर्माण कार्य में ग्रामीण नागरिकों की हिस्सेदारी होगी ।

यूपी मातृभूमि योजना की विशेषताएं/लाभ

  • योजना के अंतर्गत उत्तर प्रदेश के ऐसे नागरिकों को जुड़ने का मौका मिलेगा जो की अपनी मातृभूमि के विकास से संबंधित कार्य करना चाहते हैं।
  • इस योजना के तहत जो भी विकास कार्य किए जाएंगे उन विकास कार्यों का लाभ उत्तर प्रदेश के ग्रामीण क्षेत्रों के सभी नागरिकों को प्राप्त होंगे ।
  • जिस भी व्यक्ति या व्यक्ति समूहों के द्वारा अपनी मातृभूमि के लिए विकास कार्य में भागीदारी लिया जाएगा, उसे विकास कार्य हेतु 50 प्रतिशत की राशि (निजी संस्थान द्वारा) स्वयं ही खर्च करना होगा, बाकी की 50 प्रतिशत की राशि का सहयोग राज्य सरकार द्वारा प्रदान किया जाएगा ।
  • इस योजना के अंतर्गत जिस भी व्यक्ति के द्वारा, विकास कार्य हेतु अपनी भागीदारी का 50 प्रतिशत राशि खर्च किया जाएगा, उसे स्वतंत्र रूप से अधिकार होगा की, उसके द्वारा किए गए कार्य पर स्वयं या अपने परिजनों का नाम लिखवा सकता है ।
  • इस योजना के लाभ से ग्रामीण क्षेत्रों का विकास तिब्रता से होगा, और इन सभी कार्यों से ग्रामीण क्षेत्रों के निवासियों को रोजगार भी प्राप्त होंगे ।
  • जो भी व्यक्ति या व्यक्ति समूह अपनी मातृभूमि के विकास कार्य हेतु कुछ करना चाहते हैं, उन सभी को इस योजना के लाभ से प्रोत्साहन मिलेगा ।
  • योजना के अंतर्गत विकास कार्य में, स्कूल, इंटर कॉलेज, पुस्तकालय ,स्टेडियम, व्यायामशाला, चिकित्सा केंद्र, समुदायिक भवन, प्राथमिक चिकित्सा केंद्र, स्वच्छ पेय जल हेतु आर ओ (RO), सोलर स्ट्रीट लाइट, पानी का टैंक, ईएसटीपी प्लांट आदि को शामिल किया जाएगा, जिसके लिए केवल उत्तर प्रदेश के ग्रामीण क्षेत्रों के नागरिकों की ही हिस्सेदारी होगी ।

यूपी मातृभूमि योजना पात्रता

  • मूलनिवासी :- इस योजना के अंदर जो भी व्यक्ति या व्यतियों का समूह, अपनी मातृभूमि के लिए विकास कार्य करने हेतु इस योजना का लाभ प्राप्त करना चाहता है, उसका उत्तर प्रदेश का मूल निवासी होना अनिवार्य है, तभी वह इस योजना का लाभ लेने के पात्र होगा ।
  • 50 प्रतिशत वहन कर्ता :- जो भी इस योजना का लाभ लेकर अपनी मातृभूमि के लिए विकास कार्य करना चाहता है, उसे विकास कार्य में जो भी खर्चे लगेंगे उसका 50 प्रतिशत राशि वहन करने के योग्य होना अनिवार्य है ।
  • लाभ लेने हेतु व्यक्ति के पास आवेदन करने हेतु लगने वाले सभी आवश्यक दस्तावेज होने अनिवार्य है, तभी व्यक्ति इस योजना के पात्र होगा, किसी भी आवश्यक दस्तावेज का आभाव होने पर आवेदन खारिज कर दिया जाएगा, और आप इस योजना के पात्र नहीं माने जाएंगे ।

यूपी मातृभूमि योजना के आवश्यक दस्तावेज

  • आधार कार्ड :- यह अनिवार्य रूप से सभी सरकारी योजनाओं के लिए अनिवार्य दस्तावेज है, आधार कार्ड के मध्यम से सरकार को आप से संबंधित सभी जानकारियां प्राप्त होती हैं, इसलिए इस आवश्यक दस्तावेज को अवश्य जमा करें।
  • पासपोर्ट साइज फोटो :- आवेदक के पहचान करने हेतु पासपोर्ट साइज फोटो जमा करना अनिवार्य है ।
  • पहचान पत्र :- पहचान पत्र भी सरकार के द्वारा बनाई गई आवश्यक दस्तावेज है, जिसे सरकारी कार्यों में व्यक्ति विशेष से संबंधित अधिक जानकारियां होती हैं, यह आप की पहचान बताता है इसलिए इस दस्तावेज को भी अवश्य जमा करें ।
  • पैन कार्ड की प्रति :- वैसे तो पैनकार्ड किसी भी संपत्ति (वित्त) में लगने वाले कर को कम करने के लिए उपयोग किया जाता है, लेकिन आप चाहें तो इस दस्तावेज की प्रति भी जमा कर सकते हैं ।
  • मोबाइल नंबर :- आज के डिजिटल समय में मोबाइल की अहम भूमिका है, इसे भी अवश्य जमा करें, ताकि इस योजना से संबंधित सभी जानकारियां आप सभी को घर बैठे प्राप्त हो सके ।
  • अन्य दस्तावेज :- और भी अन्य दस्तावेज हो सकते हैं जैसे :- जाती प्रमाण पत्र, निवास प्रमाण पत्र, आय प्रमाण पत्र, लेकिन अभी तक सरकार के द्वारा इन्हें जमा करने से से संबंधित कोई जानकारी नहीं है, जैसे ही कोई जानकारी दी जाएगी आप सभी को बता दी जाएगी।

यूपी मातृभूमि योजना आधिकारिक वेबसाइट

वैसे तो उत्तर प्रदेश मातृभूमि योजना के लिए अभी तक सरकार के द्वारा कोई अधिकारिक वेबसाइट जारी नहीं किया गया है, लेकिन इस योजना का ऑनलाइन आवेदन करने के लिए अधिकारिक वेबसाइट जल्द ही जारी की जाएगी, जिसकी जानकारी इस लेख में अपडेट कर दी जाएगी ।

यूपी मातृभूमि योजना का आवेदन प्रक्रिया (Uttar Pradesh Matrubhumi Online Application Hindi)

यूपी मातृभूमि योजना का लाभ लेने के लिए आवेदन कर पाना अभी संभव नहीं है ,क्योंकि यूपी सरकार के द्वारा केवल इस योजना की घोषणा की गई है, केवल अभी इस योजना पर कार्य किया जा रहा है, ऑनलाइन आवेदन या ऑफलाइन आवेदन की प्रक्रिया के लिए अभी तक कोई जानकारी सरकार के द्वारा नहीं दी गई है, जैसे हो इस योजना से संबंधित अधिकारिक वेबसाइट या अन्य जानकारियां प्राप्त होंगी, वे सभी जानकारियां आप सभी को इस लेख में अपडेट कर बता दी जाएंगी ।

यूपी मातृभूमि योजना हेल्पलाइन नंबर

इस योजना से संबंधित सभी जानकारियां जो की हमें प्राप्त हुई हैं, वे सभी जानकारियां हमने आप सभी तक इस लेख के माध्यम से शेयर (साझा) करी है, अभी तक इस योजना से संबंधित कोई हेल्पलाइन नंबर जारी नहीं किया है, हेल्पलाइन नंबर जारी होते ही आप सभी को उपलब्ध करा दी जाएगी ।


FAQ.

  1. Q : उत्तर प्रदेश मातृभूमि योजना किस ने लांच की है?

    उत्तर प्रदेश मातृभूमि योजना, यूपी मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी के द्वारा लांच की गई है ।

  2. Q : मातृभूमि योजना के लाभार्थी कौन है?

    मातृभूमि योजना के लाभार्थी केवल उत्तर प्रदेश के मूल निवासी हैं ।

  3. Q : उत्तर प्रदेश मातभूमि योजना क्या है?

    उत्तर प्रदेश योजना एक ऐसी योजना है, जिसके अंतर्गत उत्तर प्रदेश की राज्य सरकार एवं नागरिकों के द्वारा उत्तर प्रदेश के नागरिकों के लिए विकास योजना का कार्य किया जाएगा, जिसमें गांव के विकास के साथ नागरिकों को भी लाभ प्राप्त होगा ।

  4. Q : उत्तर प्रदेश मातभूमि योजना की शुरुवात कब और किसके द्वारा की गयी?

    उत्तर प्रदेश मातृभूमि योजना की शुरुआत 15 सितंबर वर्ष 2021 को हुई थी, इसकी शुरुआत उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी के द्वारा शुरू किया गया।

अन्य पढ़ें :-

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

Leave a Comment